क्या आप जानते हो, आख़िर क्यों ऑटोरिक्शा चालक सीट के एक तरफ़ बैठते हैं?

अकसर आपने ऑटोरिक्शा ड्राइवर को ड्राइविंग करते समय सीट के एक तरफ़ बैठे ही देखा होगा. क्या आपने कभी सोचा है कि वो लोग ऐसे ड्राइव क्यों करते हैं?



हम जानते हैं कि आपने कभी नहीं सोचा होगा क्योंकि कई बातें सोचने लायक नहीं होतीं. लेकिन याद रहे हर एक चीज़ के पीछे एक वजह ज़रूर होती है वैसे ही इसके पीछे भी है. अब सोचना बंद करें और पढ़ना शुरू करें.

इस बात का जवाब हमें Quora से मिला. शिवन सक्सेना नाम के एक शख़्स ने इसका बख़ूबी जवाब दिया है.

“मैंने कई ऑटोचालकों से इस मसले पर बात की. 7-8 साल पहले जब मैं कॉलेज में पढ़ता था, तो अकसर ऑटो से सफर करने के दौरान चालकों से बात करता. सीट के एक तरफ़ बैठने के उन्होंने एक नहीं बल्कि मुझे कई कारण बताये.”

1. जब वो लोग ऑटो चलाना सीखते हैं, तो ऐसे ही ड्राइवर के बगल में बैठ कर सीखते हैं. बाद में ये उनकी आदत बन जाती है.

2. सीट के नीचे ही इंजन होता है जिससे निकलने वाली गर्मी ड्राइवर को काफ़ी दिक्कत देती है. इसीलिए वो कभी इस तरफ़, तो कभी उस तरफ़ बैठता है, बजाय बीच में बैठने के.

3. एक ऑटोचालक का कहना था कि ज़्यादा सवारियां बैठाने के लिए वो एक-दो सवारियों को आगे बिठा लेते हैं.

4. वैसे ऑटोचालकों का सीट के बीच में बैठना कोई औपचारिक नियम नहीं है. एक जगह बैठे-बैठे पिछवाड़ा भी बोर हो जाता है. इसी कारण वो इधर-उधर होते रहते हैं.
Source: desinema

YOU MAY LIKE