पानी में गिर जाये मोबाइल तो ऐसे करें ठीक

0
75
ऐसे में मोबाइल के मिलने से जहां एक और हमें आराम मिला तो दूसरी तरफ हमारी मुसीबतें भी बढ़ गयी । मोबाइल को हमेशा साथ रखना अब हमारी जरूरत बन गयी है…

इस मशीनी युग में हर व्यक्ति का सुकून आराम तो कहीं जैसे खो गया है। बस लगातार भागते-भागते ही दिन बीत जाता है। सुबह उठने के साथ ही टेंशन का दौर चलता रहता है। ऐसे में मोबाइल के मिलने से जहां एक और हमें आराम मिला तो दूसरी तरफ हमारी मुसीबतें भी बढ़ गयी । मोबाइल को हमेशा साथ रखना अब हमारी जरूरत बन गयी है, ऐसे में कभी-कभी मोबाइल हाथ से छूट जाता है और पानी में भी गिर जाता है या बारिश में भीग जाता है और लगता है कि बस सब कुछ खत्म लेकिन आज हम आपको बता रहे हैं कि अगर पानी में आपका मोबाइल गिर जायें तो क्या करें।

1. पानी में गिरते ही तुरंत मोबाइल को बाहर निकाल लें। जितनी देर मोबाइल पानी में गिरा रहेगा उतना ही उसके पार्टस खराब होने के चांस ज्यादा होंगे। पानी में अधिक देर पड़े रहने से मोबाइल शॉर्ट सर्किट भी हो सकता है।

2. मोबाइल को स्टार्ट करने से पहले उसे ऊपर से पोंछकर जल्दी से उसकी बैटरी बाहर निकालें। अब किसी मुलायम कपड़े से उसे अंदर से भी पोंछ लें।

3. मोबाइल का सिम कार्ड भी बाहर निकाल लें। जब तक मोबाइल अंदर से सूख न जाये उसमें सिम कार्ड न डालें।

4. मोबाइल को किसी गैजेट्स से या इअर फोन से कनेक्ट कर रखा हो, तो उसे हटायें। अगर स्क्रीन गार्ड लगा रखा हो, तो उसे भी हटा दें।

5. फोन के पानी को हटाने के लिए आप वेक्यूम क्लीनर का भी प्रयोग कर सकते हैं। लगभग 20 मिनट तक आप ऐसा कर सकते हैं। इस दौरान फोन को चारों तरफ पलटते रहें। वेक्यूम क्लीनर की फोन से एक सुरक्षित दूरी बनाये रखें वरना फोन को नुकसान भी पहुंच सकता है।

6. फोन को सुखाने के लिये हेयर ड्रायर का प्रयोग भूलकर भी न करें। हेयर ड्रायर गर्म हवा फेंकता है जिससे उसके अंदरूनी पार्टस पिघल भी सकते हैं।

7. जब सारे पार्ट्स को पोंछ ले तो कुछ समय के लिए इन्हें सूरज की रोशनी में भी रखें। इससे अगर थोड़ा बहुत पानी कहीं बचा होगा तो वो भी निकल जायेगा।

8. 24 घंटे तक फोन में बैटरी न लगायें। जब आपको लगे कि इसके अंदर के सारे पार्टस सूख चुके हैं तभी बैटरी लगायें, बैटरी लगाने से पहले उसे चार्ज अवश्य कर लें।

उसके बाद भी अगर आपका फोन ठीक न हो तो उसे सर्विस सेंटर में ले जायें और फोन के पानी में गिरने की बात उससे न छपायें। नहीं तो उसे ठीक करने में दिक्कत हो सकती है।

YOU MAY LIKE
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here