जज्बे को सलाम – बदमाशों को पकड़ते हुए ट्रेन के नीचे आया पुलिस अफसर, बोला- पैर कटने का गम नहीं, मैंने अपना फर्ज निभा लिया

जो इंसान अपना फर्ज और इंसानियत नहीं भूलता वो महान होता है। महान होने के लिए जरूरी नहीं आपके पास बेशुमार दौलत हो। आपको आपके फर्ज के प्रति इमानदारी और नेकदिली महान बनाती है। छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा रेलवे स्टेशन में पर एक दर्दनाक हादसे में रेलवे पुलिस फोर्स के एक इंस्पेक्टर को अपना एक पैर गंवाना पड़ा।

यहां ड्यूटी पर तैनात इंस्पेक्टर ए के पांडे ट्रेन की चपेट में आ गए और उनका बांया पैर कट गया। हादसे के तुरंत बाद RPF की टीम के साथ-साथ रेलवे के अफसर भी घटनास्थल पर पहुंचे और घायल हालत में इंस्पेक्टर को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

जानकारी के मुताबिक इंस्पेक्टर ए के पांडे करीब ढाई साल से यहां तैनात हैं और काफी सक्रिय अफसर माने जाते हैं। सोमवार को जब उन्हें बिलासपुर से कोरबा तक चलने वाली गेवरा रोड पैसेंजर ट्रेन में कुछ उठाईगीरों की सूचना तो वह ट्रेन में चढ़ गए। बदमाशों को पकड़ने के लिए आनन-फानन में एक डिब्बे से दूसरे डिब्बे की ओर बढ़ते समय अचानक उनका पैर फिसला गया और वह ट्रेन के नीचे आ गए।

इसके बाद पूरी ट्रेन उनके एक पैर पर से गुजर गई और उनका पैर बुरी तरह लहूलुहान हो गया। फिलहाल उन्हें कोरबा अस्पताल में प्राथमिक उपचार देने के बाद अपोलो अस्पताल बिलासपुर रेफर कर दिया गया है, जहां डॉक्टरों की देखरेख में उनका इलाज किया जा रहा है।