साइकिल के बारे में ये 10 तथ्य जानकर आप भी अवश्य खरीद लेंगे दो- तीन साइकिल ….

आज की साईकिल भले आपको बहुत छोटी वस्तु नज़र आती हो परन्तु इसी साइकिल ने लोगो की जिंदगी का नज़रिया ही बादल दिया था | इस छोटे से अविष्कार ने भविष्य की दुनिया के लिए नए अविष्कार खोज निकले जो आपके सामने मोटर साइकिल ,बस और कार का रूप लेकर उपस्थित है |तो आईये आज हम जानते है सदी के सबसे बड़े और महत्वपूर्ण अविष्कार के बारे में ……

गज़ब दुनिया

1.यूरोपीय देशों में साइकिल के प्रयोग का विचार लोगों के दिमाग में 18वीं शताब्दी में ही आ चुका था, लेकिन इसे मूर्तरूप पहली बार सन् 1816 में पेरिस के एक कारीगर ने दिया।

2.साल 1817 में जर्मनी में बनी एक मैनुअल मशीन ड्रेजिन ‘draisine’ ने साइकिल के अविष्‍कार को जन्‍म दिया था। जर्मनी के सरकारी कर्मचारी Karl von Drais ने इसका निर्माण किया था। ये दो पहिए वाली बिना पैडल की साइकिल थी। ड्रेजिन को रोड पर चलाने के लिए पैरों से जमीन पर धक्‍का मारना होता था।

3.साइकिल को उसका यह नाम 1860 में फ्रांस मिला। 1840 तक साइकिल ऐसे ही पैर से धक्‍के मारकर चलती रही इसके बाद स्‍कॉटलैंड के एक लोहार कर्कपैट्रिक मैकमिलेन ने मॉर्डन फ्रेम मॉडल के साथ साइकिल का पहला मॉडल बनाया।

गज़ब दुनिया
गज़ब दुनिया

4.दुनिया में हर साल 10 करोड़ साइकिलें बनाई और बेची जाती हैं। वैसे दुनिया की आबादी के लिहाज से साइकिलों की संख्‍या मोटर गाड़ियों की तुलना में लगातार कम होती जा रही है।

5.साइकिल चलाना इसलिए भी मजेदार है, क्‍योंकि इसका मेंटीनेंस कराना भी बहुत आसान और कम खर्चीला है। रिकॉर्ड के मुताबिक एक कार की तुलना में साइकिल की सालाना मेंटीनेंस का खर्चा लगभग 20 गुना कम होता है |

6.आपको भले ही इसका अंदाजा हो या नहीं लेकिन दुनिया में अमेरिका ही ऐसा देश है जिसके लोग अपने आने जाने की कुल ट्रिप्‍स का केवल एक परसेंट साइकिल चलाकर पूरा करते हैं। इंडिया में ये आंकड़ा काफी ज्‍यादा है, लेकिन जैसे जैसे कार और बाइकों की संख्‍या बढ़ी है।

7.भले ही भारत में लोग साइकिल की बजाय कार और बाईक चलाने को शान समझते हों लेकिन शहर की बिजी सड़कों पर चलाने और पार्क करने के मामले में साइकिल कार से बेहतर और आसान साबित होती है ,एक कार की जगह मे आप लगभग 15 साइकिलों को पार्क कर सकते हैं।

गज़ब दुनिया
गज़ब दुनिया

8.आज के लोग भले ही इसे पैसे और संसाधनों की बर्बादी बताएं लेकिन जापान दुनिया का पहला देश है, जिसने अपने यहां कई बड़े शहरों में साइकिलों को पार्क करने के लिए अंडरग्राउंड मल्‍टीस्‍टोरी ऑटोमेटिक पार्किंग सिस्‍टम लगाया हुआ है।

9.दुनिया में एक ऐसी भी साइकिल बनाई गई है, जो 20 मीटर लंबी है और इस पर एक साथ 35 लोग बैठ सकते हैं। भले ही इस साइकिल को बनाने वालों ने अपने दिमाग के सारे घोडे़ खोल दिए हों लेकिन दुनिया के सबसे बेवकूफी वाले आयडियाज की लिस्‍ट में यह शामिल हो गयी |

10.आपको मालूम है कि दुनिया में सबसे ज्‍यादा साइकिलें चाइना की सड़कों पर चलती हैं। यहां के हर एक घर में एक साइकिल के एवरेज में देश में 50 करोंड से ज्‍यादा साइकिलें हैं! इसके बाद नीदरलैंड का नाम आता है |

Add a Comment