संदीप माहेश्वरी के बेस्ट प्रेरणा दायक सुविचार Best Sandeep Maheshwari Quotes in Hindi

        संदीप माहेश्वरी के बेस्ट प्रेरणा दायक विचारों का संग्रह

                                          संदीप माहेश्वरी Sandeep Maheshwari

अगर आप उस इंसान की तलाश कर रहे हैं जो आपकी ज़िन्दगी बदलेगा, तो आईने में देख लें।

अगर आपके पास ज़रुरत से ज्यादा है तो उसे उनसे शेयर करिये जिन्हे इसकी सबसे ज्यादा ज़रुरत है.

अगर आप महानता हासिल करना चाहते हैं तो इजाज़त लेना बदं करिये.

जो लोग अपनी सोच नहीं बदल सकते वे कुछ नहीं बदल सकते.

गलतियां इस बात का सुबूत हैं कि आप प्रयास कर रहे हैं.

एक ‘इच्छा’ कुछ नहीं बदलती, एक ‘निर्णय’ कुछ बदलता है, लेकिन एक ‘निश्चय’ सब कुछ बदल देता है.

सफलता हमेशा अकेले में गले लगाती है.! लेकिन असफलता हमेशाआपको सबके सामने तमाचा मारती है..! यही जीवन है.

जिस नज़र से आप इस दुनिया को देखेंगे, ये दुनिया आपको वैसी ही दिखेगी.

चाहे तालियां गूँजें या फीकी पड़ जाएँ, अंतर क्या है ? इससे मतलब नहीं है कि आप सफल होते हैं या असफल. बस काम करिये, कोई काम छोटा या बड़ा नहीं होता.

अच्छा बोलो, अच्छा सुनों, अच्छा देखो.

न मैदान छोडो, न इंतज़ार करो… बस चलते रहो.

किसी भी काम में अगर आप अपना 100% देंगे तो आप सफल हो जाएंगे.

ज़िन्दगी में कभी भी कुछ करना है तो सच बोल दो, घुमा-फिरा के बात मत करो।

सक्सेस एक्सपीरियंस से आती है और एक्सपीरियंस बैड एक्सपीरियंस से।

मैं सिर्फ good luck को मानता हूँ, bad luck नाम की इस दुनिया में कोई चीज नहीं, क्योंकि जो होता है अच्छे के लिए होता है। इसका मतलब हमारे साथ कुछ बुरा भी हो रहा है तो बुरा लग रहा है बुरा है नहीं, आज बुरा लग रहा है आगे आने वाले टाइम पे पता चलता है कि वो भी अच्छे के लिए हुआ है।

अपनी life की छोटी से छोटी problems बड़ी से बड़ी problems उसमे जा कर के इन दो words को चिपका दो, अंदर से जिस दिन आवाज आने लग गयी न.. “आसान है ”, उस दिन सब कुछ  सच मे आसान हो जाएगा.. और यही मेरी life का सबसे बड़ा secret है सबसे बड़ा… “आसान है !” इसकी power को under estimate मत करो … इसने मेरी ज़िन्दगी बदली है !

अगर मेरे जैसा लड़का जो दब्बू था…जो शर्माता था…वो अगर स्टेज पे आकर बोल सकता है तो दुनिया का कोई भी आदमी कुछ भी कर सकता है।

कामयाब होना कोई बड़ों का खेल नहीं… ये बच्चों का खेल है…और अगर तुम मान लो कि successful होना बच्चों का खेल है तो क्या होगा… successful हो जाओगे…

वो क्या सोचेगा…ये मत सोचो…वो भी यही सोच रहा है. एक समय लोग मुझसे कहते थे …ये ले दस रुपये और मेरी photo खींच दे …अगर मैं यही सोचता कि लोग क्या कहेंगे तो मैं आज यहाँ नहीं होता.. दुनिया का सबसे बड़ा रोग “क्या कहेंगे लोग”

Success की सिर्फ एक definition है मेरे लिए, share करो….दिल से share करो…सबके साथ share करो…

जो मन करे  खुल के करो क्योंकि ये दिन दुबारा नही आने वाला।

हमेशा याद रखो जो होता है अच्छे के लिए होता है…

इससे फर्क नहीं पड़ता कि आप क्या सोचते हैं, आप क्या बोलते हैं, आप क्या सुनते हैं, फर्क इससे पड़ता है कि आप क्या मानते हैं… क्योंकि जो आप मानते हैं आज नहीं तो कल आप वो बन जाते हैं.

जितने भी believes जो झूठ पर based हैं उनको बनने में सदियाँ लगती हैं, पर टूटने में एक सेकेण्ड लगता है.

बुरा मत देखो बुरा मत बोलो बुरा मत सुनो… ये नहीं बोलना है इसकी जगह बोलो… अच्छा देखो, अच्छा बोलो अच्छा सुनो.

न भागना है न रुकना है …बस चलते रहना है … चलते रहना है..

आज मैं जो कुछ हूँ अपने failures की वजह से हूँ।

मैं इस वजह से successful नहीं हूँ कि कुछ लोगों को लगता है कि मैं successful हूँ … मैं इस वजह से सक्सेसफुल हूँ क्योंकि मुझे लगता है कि मैं successful हूँ..

अगर दुनिया के एक इंसान भी कोई काम कर सकता है तो आप भी उस काम को खेल-खेल में कर सकते हैं।

आप इसे पसंद करें या नहीं, आप इसे स्‍वीकार करें या नहीं, आप इसमें विश्‍वास करें या नहीं…लेकिन आपकी जिन्‍दगी वैसी ही है जैसी कि आपने अपने लिए चुनी है।

बिना सोचे काम करना और बिना कुछ काम किये सोचते रहना…100% असफलता देता है।

जब दिमाग़ कमजोर होता है, परिस्थितियां समस्‍या बन जाती हैं। जब दिमाग़ स्थिर होता है, तब परिस्थितियां चुनौती बन जाती हैं। लेकिन जब दिमाग़ मजबूत होता है, तब परिस्थितयां अवसर बन जाती हैं।

मैं अपने सेमिनार्स फ्री में करता हूँ….जिंदगी में कभी कोई भूखा मिले तो उसे खाना खिला देना, मुझे मेरे पैसे मिल जायेंगे।

जिस दिन आपने खुल करके अपनी ज़िन्दगी जी ली बस वही त्यौहार है बाकी सब बस कैलेण्डर की डेट्स हैं।

तू यही सोच रहा है न कि तेरे घर वाले क्‍या सोचेंगे… तेरे रिश्तेदार क्‍या सोचेंगे… बढिया है सोचता रह…

अरे मिलेगा भाई, इतना मिलेगा जितना तुम सपने में भी नहीं सोच सकते… पहले खिलाड़ी तो बनो, अपने खेल के पक्‍के खिलाड़ी!

अगर boring जगह पर हमको अपने मन को टिकना आ गया तो फिर interesting जगह तो बस खेल है।

जो मन करे वो करो… खुल के करो… क्योंकि ये दिन दुबारा नही आने वाला।

सबसे बड़ा रोग क्‍या कहेंगे लोग।

जो कुछ भी करो एक जूनुन के साथ करो वरना मत करो।

आप को पावरफुल बनना है, इसलिए नहीं कि आप किसी को दबा सकें, बल्कि इसलिए कि कोई आपको न दबा सके।

जो कर्म आपको अंदर से मजबूत करता है वो अच्छा कर्म है जो आपको अंदर से कमजोर करता है वो बुरा कर्म है।

जिसकी awareness जितनी ज्यादा होगी उसकी possibilities भी उतनी अधिक होंगी।

अरे जो सोये हुए हो…. डरे हुए हो…. बैठे हुए हो….. उठो खड़े हो, आगे बढ़ो जो करना है करो…. कोई काम छोटा या बड़ा नहीं होता…. ओटो चलाना पड़े चलाओ… टैक्सी चलानी पड़े चलाओ ना…. क्या बुराई है खाली क्यों बैठना है।

जब desire को choose करना ही है… तो बड़े से बड़ा choose करो ना….. बड़े से बड़ा…… दुनिया का सबसे बड़ा।

Learning पे focus करो earning पे नहीं, earning हमेशा future में होती है; learning हमेशा present moment में होती है। Learning पे focus करना है earning पे नहीं।

सीखते रहना है जो सीख रहा है वो जिंदा है जिसने सीखना बंद कर दिया… वो जिंदा लाश है।

मेरा मिशन क्या है – India के अंदर और इस पूरे World के अंदर unlimited leaders खड़े करना।

जब भी कोई व्यक्ति आपको यह कहे कि, “आप यह नहीं कर सकते”, तो वो बस इतना ही कहना चाहता है कि – “मैं यह नहीं कर सकता।”

जब भी आप खुश होते हो समझो कब होते हो और क्यों होते हो …और जब भी आप दुखी होते हो समझो कब होते हो और क्यों होते हो..अगर हमें इतना सा समझ आ जाए तो हम उस understanding को 24 घंटे में apply कर सकते हैं….समझ आये तो सही!

किसी काम से बार-बार demotivate हो रहे हो तो motivated कैसे रहोगे….तुम जितना उस काम के बारे में जानते चले जाओगे…उतना ही तुम मोटिवेट होते चले जाओगे… जितना उस काम के positive side को जानते चले जाओगे….उतना ही मोटिवेट होते चले जाओगे….

लोग कहते हैं इस बिजनेस में क्या पड़ा है….इस नौकरी में क्या पड़ा है…..तो मैं बता दूँ कि किसी भी बिजेनस में…किसी भी करियर में कुछ पड़ा नहीं होता है….आपको कोई सोने की खान मिलने वाली नहीं है कहीं से भी…खोदनी पड़ती है!

याद रखिये हर बड़े की शुरुआत छोटे से होती है।

Mediocrity बड़ी खतरनाक जगह है हम यहीं पर अटके रह जाते हैं…हम ऊपर वालों को देखकर जलते रहते हैं और नीचे वालों को देखकर खुश होते रहते हैं!

हर करीयर में ऊपर कहाँ तक जाया जा सकता है इसकी कोई लिमिट नहीं है…

जैसे ही आप किसी चीज की बुराई कर रहे हो या किसी से jealousy कर रहे हो या किसी को नीचे गिरा रहे हो … अपने आप को बेटर फील करने के लिए….. तो आप और नीचे गिर जाते हो….

जहाँ पर आपकी थिंकिंग जाती है जहाँ पर आपकी नज़र जाती है वैसे ही आप बनने लग जाते हो…

आप मेरे वर्ड्स को तो पकड़ रहे हो लेकिन मैं जिस तरफ इशारा कर रहा हूँ वो नहीं देख रहे हो….यही ट्रैप है…मतलब अगर मैं ऊँगली से चाँद दिखा रहा हूँ तो आप बस ऊँगली देखे जा रहे हो चाँद को नहीं देख रहे हो…

हर सिचुएशन में अच्छाई भी है बुराई भी है…हर इंसान में अच्छाई भी है बुराई भी है….चॉइस हमारे हाथ में है कि हम क्या देखते हैं…

जिस वक़्त हम उन चीजो की तरफ देखते हैं जो हमारे पास में नहीं हैं और हम चाहते हैं तो हमारी किस्मत बुरी होती है और जबी हम उन चीजों की तरफ देकते हैं जो हमारे पास है तो उस मोमेंटी में हमारी क़िस्मटी अछि होती है!

अगर हमें अपने desires को बदलना आ जाये तो हमारी किसमत बदल जायेगी।

Attitude is Everything By Sandeep Maheshwari

पहली बार अगर आपने लाइफ में कोई भी गलती की है तो वो गलती नहीं है…लेकिन अगर उसी को आप बार-बार कर रहे हो तो ये गलती है।

गलतियाँ करो but learn from it….सही काम करो पर उसमे चिपके मत रहो…कुछ अच्छा करके अपनी ईगो को मत बढाओ…grow out of it ….क्या फरक पड़ता है…

कोई भी गलती इतनी बड़ी नहीं है कि उसे माफ ना किया जा सके।

जब हम किसी और को सलाह दे रहे होते हैं तो बड़ी अच्छी सलाह देते हैं लकिन जब हम खुद ही उस सिचुएशन में होते हैं तो बेवकूफों की तरह एक्ट करते हैं!

न मैं हार्डवेयर हूँ न मैं सॉफ्टवेयर हूँ ….मैं इन दोनों को प्रयोग करने वाला हूँ….

बस इतनी सी बात समझो….ज़िन्दगी एक खेल है…

जैसे आज से दस साल पहेल ज़िन्दगी जी रहे थे वैसे ही जी रहे हैं….eat sleep repeat…eat sleep reapeat…. क्या मजा है! Next level पे जाओ।

आप चाहो भी तो भी ज़िन्दगी के खले में आउट नहीं हो सकते ….तब तक जब तक कि आप खुद मैदान को छोड़ कर भाग नहीं जाते! दुनिया की कोई ताकत आपको हरा नहीं सकती अगर आप पिच पर डंटे रहो…

एक इवेंट में फेल होने से आप लाइफ में फेल नहीं हो सकते ….एक इवेंट का एंड लाइफ का एंड नहीं है भाई….

Materialistic चीजों के बारे में जितना सोचोगे उसके मिलने का चांसेज उतने घट जायेंगे…जितना अपने काम के बारे में सोचोगे materialistic चीजों के मिलने के चांसेज उतना बढ़ जायेंगे….

                                                                                                                                               संदीप माहेश्वरी Sandeep Maheshwari

Add a Comment