एक समय सब हंसते थे, लेकिन आज गांव के लोग अपनी इन बेटियों पर नाज़ करते हैं

0
186

हरियाणा में देश का सबसे बड़ा ‘भारत कुश्ती दंगल’ 21 मार्च से शुरू होने वाला है। इस मौके पर हम एक ऐसे गांव के बारे में जानकारी दे रहे हैं जहां पहुंचकर लोग भूल जाएंगे कि अखाड़े और पहलवानी सिर्फ पुरुष ही करते हैं। भिवानी जिले का एक छोटा-सा गांव बलाली। यहां गांव के बाहर एक ‘बड़े एंट्री’ गेट पर लिखा है- इंटरनेशनल महिला पहलवान गीता, बबीता, रितु के गांव बलाली में आपका स्वागत है। ये तीनों महिला पहलवान बहनें हैं। अब उनकी पहचान पूरे गांव की पहचान है।


पिता की जिद थी बेटियां पहलवान बने
– बता दें कि फोगट बहनों का ये सफ़र उनके पिता के सपने से पूरा हुआ था। इनके पिता महाबीर फोगट खुद पहलवान थे।
– उन्होंने खुद बेटियों को ट्रेंड किया। हालांकि, हरियाणा के एक टिपिकल गांव में यह इतना आसान नहीं था।
– जब उन्होंने बेटियों को अखाड़े में ट्रेनिंग देनी शुरू की तो उनका मजाक उड़ाया गया। पर वे रुके नहीं।
– ट्रेनिंग के बाद पहली बार जब एक गांव के दंगल में गीता और बबीता ने कुश्ती जीती तो महाबीर के सपनों को जैसे पंख लग गए।

तैयारी के लिए लेना पड़ा कर्ज

– महाबीर बेटियों को चैंपियन बनाने के लिए और तैयारी करने लगे। ट्रेनिंग वगैरा का खर्चा बढ़ता ही जा रहा था।
– एक पहलवान पर 50 से 60 हजार रुपए हर माह खर्च हो रहा था। इसलिए उन्होंने बेटियों की देखरेख के लिए घर और खेती का पैसा भी लगा दिया।
– कर्ज लेना पड़ा। घरवाले, रिश्तेदार तंज अलग कसते थे कि कुश्ती खेलने से लड़कियों के कान बड़े हो जाएंगे। कोई शादी नहीं करेगा।
– लेकिन महावीर ने हार नहीं मानी वे गीता-बबीता को ट्रेनिंग देते रहे।
– महाबीर की मेहनत रंग लाई। उनकी बेटियों ने देश विदेश के कई बड़े कॉम्पिटीशन जीते।
– आज पूरा गांव शान से फोगट सिस्टर्स का नाम लेता है।

ऐसे होती है पहलवान बहनों की प्रैक्टिस
-आज भी सुबह चार बजे से फोगट सिस्टर्स की प्रैक्टिस का सिलसिला शुरू हो जाता है।
-मिट्टी के अखाड़े की जगह अब इंटरनेशनल चैंपियनशिप के लिए जरूरी गद्दे लग गए हैं।
-लेकिन हाल ही में गीता ने बताया कि अभी भी मेहनत का स्तर वही है।

Loading...

कई अवॉर्ड्स जीत चुकी हैं फोगाट सिस्टर्स…
अजुर्न अवॉर्डी व कॉमनवेल्थ गेम्स 2010 की गोल्ड मेडलिस्ट गीता पहली भारतीय महिला हैं, जिन्होंने ओलिंपिक (लंदन 2012) खेला। उनकी बहन बबीता और विनेश ने भी कॉमनवेल्थ गेम्स (2014) में गोल्ड मेडल विनर्स रही हैं। फोगाट सिस्टर्स की कज़न बहनें रितु, प्रियंका और संगीता भी कई राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में मेडल जीत चुकी हैं।

आमिर बना रहे हैं इन पर फिल्म…
-फोगाट सिस्टर्स पर आमिर खान फिल्म ‘दंगल’ बना रहे हैं।
– फिल्म को आमिर की वाइफ किरण और सिद्धार्थ रॉय कपूर ने को-प्रोड्यूस किया है।

source: bhaskar
YOU MAY LIKE
Loading...