जानें एक ऐसे आदिवासियों के बारे में, जिनका बाहर की दुनिया से नहीं है कोई वास्ता

0
34

मेंतावाई आदिवासियों का आज के मॉडर्न वर्ल्ड से कोई वास्ता नहीं है। पहली बार फोटोग्राफर मोहम्मद सालेह बिन दोलाह ने इनकी रुटिन लाइफ पर एक फोटो सीरीज जारी की है। मेंतावाई लोग मूलरूप इंडोनेशिया के हैं। वेस्ट सुमात्रा का मेंतावाई आइलैंड इनका घर है।



– फोटोग्राफर के मुताबिक, मेंतावाई आदिवासियों को बाकी दुनिया से कोई मतलब नहीं है। वे लोग शरीर पर ढेर सारे टैटू से पहचाने जाते हैं।

– यहां महिलाएं बिना कपड़ों के अपने रोजमर्रा के काम करती हैं। पुरुष सारा दिन स्मॉक करते हैं। खाने के लिए शिकार पर निर्भर हैं।

– 64 हजार की आबादी वाली इस कम्युनिटी के घरों को उमस कहा जाता है। यह बंबू, लकड़ी और घास के बने होते हैं।

– इनकी सोशल लाइफ अपने ग्रुप और कम्युनल हाउस के आसपास होती है। यहां हर एक वंश में 30 से 80 मेंबर्स होते हैं।

– ट्राइब का विश्वास है कि पेड़ समेत सभी लिविंग ऑब्जेक्ट में दैवीय शक्ति होती है।

– कम्युनिटी में एक शख्स ऐसा होता है, जो दैवीय शक्तियों और आत्माओं के बीच संपर्क कर सकता है।

देखे तस्वीरें

source: theguardian

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here