याद करके रोये… तेरे पास से जो गुजरे तो बेखुदी में थे हम, कुछ दूर जाके संभले तुझे याद करके रोये। हर पल उनकी याद… नजरें उन्हें देखना चाहे तो आँखों का क्या कसूर, हर पल याद उनकी आये तो साँसों...