रात चाँदनी बनकर… ये रात चाँदनी बनकर आँगन में आये, ये तारे लोरी गा कर आपको सुनाएं, आयें आपको इतने प्यारे सपने यार… कि नींद में भी आप हलके से मुस्कुराएं। आपके बिना रात… जब भी आपके बिना रात होती हैं,...