अथ प्रथमोऽध्यायः- अर्जुनविषादयोग    दोनों सेनाओं के प्रधान शूरवीरों और अन्य महान वीरों का वर्णन धृतराष्ट्र उवाच:-              ...