Tag: सुंदरकांड

जानिए क्या है हकीकत – हनुमान जी लंका तैरकर गए थे या उड़कर ?

”अष्ट सिद्धि नौ निधि के दाता। अस बर दीन्ह जानकी माता।” ”चारों जुग परताप तुम्हारा, है परसिद्ध जगत उजियारा॥” हनुमानजी के लंका जाने के बारे में लोगों की भिन्न-भिन्न मान्यताएं हैं। कुछ मानते हैं कि वे तैरकर गए थे, कुछ के...

निष्पक्ष न्याय के देवता शनि के कष्ट निवारक उपाय आजमाएं, फिर देखें करिश्मा किस्मत का

भगवान शनिदेव कलियुग में भी निष्पक्ष न्याय में विश्वास करने वाले माने जाते हैं और संतुष्ट होने पर अच्छी किस्मत और भाग्य के साथ अपने भक्त की हर मनोकामना पूरी करके मनवांछित फल प्रदान करते हैं। पौराणिक कथा के अनुसार सूर्य...