Home Tags पंचतंत्र की कहानी

Tag: पंचतंत्र की कहानी

पंचतंत्र की कहानी -गौरैया और हाथी – मित्रभेद The Elephant and...

किसी पेड़ पर एक गौरैया अपने पति के साथ रहती थी। वह अपने घोंसले में अंडों से चूजों के निकलने का बेसब्री से इंतज़ार...

पंचतंत्र की कहानी -तीन मछलियां- मित्रभेद Tale of the Three Fishes...

एक नदी के किनारे उसी नदी से जुडा एक बडा जलाशय था। जलाशय में पानी गहरा होता हैं, इसलिए उसमें काई तथा मछलियों का...

पंचतंत्र की कहानी – नीले सियार की कहानी – मित्रभेद The...

एक बार की बात हैं कि एक सियार जंगल में एक पुराने पेड के नीचे खडा था। पूरा पेड हवा के तेज झोंके से...

पंचतंत्र की कहानी -चतुर खरगोश और शेर – मित्रभेद The Cunning...

किसी घने वन में एक बहुत बड़ा शेर रहता था। वह रोज शिकार पर निकलता और एक ही नहीं, दो नहीं कई-कई जानवरों का...

पंचतंत्र की कहानी -बगुला भगत और केकड़ा ~ मित्रभेद The Crane...

एक वन प्रदेश में एक बहुत बडा तालाब था। हर प्रकार के जीवों के लिए उसमें भोजन सामग्री होने के कारण वहां नाना प्रकार...

पंचतंत्र की कहानी -दुष्ट सर्प और कौवे ~ मित्रभेद The Cobra...

एक जंगल में एक बहुत पुराना बरगद का पेड था। उस पेड पर घोंसला बनाकर एक कौआ-कव्वी का जोडा रहता था। उसी पेड के...

पंचतंत्र की कहानी – धूर्त बिल्ली का न्याय The Cunning Mediator...

एक जंगल में विशाल वृक्ष के तने में एक खोल के अन्दर कपिंजल नाम का तीतर रहता था । एक दिन वह तीतर अपने...

पंचतंत्र की कहानी -व्यापारी का पतन और उदय -मित्रभेद Fall And...

वर्धमान नामक एक शहर में एक बहुत ही कुशल व्यापारी रहता था। राजा को उसकी क्षमताओं के बारे में पता था, और इसलिए उसने...

बेताल पच्चीसी – चोर ज़ोर-ज़ोर से क्यों रोया और फिर हँसा?...

अयोध्या नगरी में वीरकेतु नाम का राजा राज करता था। उसके राज्य में रत्नदत्त नाम का एक साहूकार था, जिसके रत्नवती नाम की एक...

पंचतंत्र की कहानी -बन्दर और लकड़ी का खूंटा ~ मित्रभेद The...

एक समय शहर से कुछ ही दूरी पर एक मंदिर का निर्माण किया जा रहा था। मंदिर में लकडी का काम बहुत था इसलिए...