स्वप्न फल (Swapna phal)- जानिए 251 तरह के सपनों का मतलब भाग – 9

0
203
स्वप्न ज्योतिष के अनुसार नींद में दिखाई देने वाले हर सपने का एक ख़ास संकेत होता है, एक ख़ास फल होता है। यहाँ हम आपको 251 सपनो के स्वपन ज्योतिष के अनुसार संभावित फल बता रहे है।

1 से 25 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग १
26 से 50 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग २
51 से 75 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 3
76 से 100 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 4
101 से 125 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 5
126 से 150 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 6
151 से 175 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 7
176 से 200 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 8
……….

Swapna phal in Hindi : 201 to 225 Part – 9

201- अंगूठी पहनना- सुंदर स्त्री प्राप्त करना
202- आकाश में उडऩा- लंबी यात्रा करना
203- आकाश से गिरना- संकट में फंसना
204- आम खाना- धन प्राप्त होना
205- अनार का रस पीना- प्रचुर धन प्राप्त होना
206- ऊँट को देखना- धन लाभ
207- ऊँट की सवारी- रोगग्रस्त होना
208- सूर्य देखना- खास व्यक्ति से मुलाकात
209- आकाश में बादल देखना- जल्दी तरक्की होना
210- घोड़े पर चढऩा- व्यापार में उन्नति होना
211- घोड़े से गिरना- व्यापार में हानि होना
212- आंधी-तूफान देखना- यात्रा में कष्ट होना
213- दर्पण में चेहरा देखना- किसी स्त्री से प्रेम बढऩा
214- ऊँचाई से गिरना- परेशानी आना
215- बगीचा देखना- खुश होना
216- बारिश होते देखना- घर में अनाज की कमी
217- सिर के कटे बाल देखना- कर्ज से छुटकारा
218- बर्फ देखना- मौसमी बीमारी होना
219- बांसुरी बजाना- परेशान होना
220- स्वयं को बीमार देखना- जीवन में कष्ट
221- बाल बिखरे हुए देखना- धन की हानि
222- सुअर देखना- शत्रुता और स्वास्थ्य संबंधी समस्या
223- बिस्तर देखना- धनलाभ और दीर्घायु होना
224- बुलबुल देखना- विद्वान व्यक्ति से मुलाकात
225- भैंस देखना- किसी मुसीबत में फंसना

1 से 25 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग १
26 से 50 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग २
51 से 75 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 3
76 से 100 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 4
101 से 125 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 5
126 से 150 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 6
151 से 175 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 7
176 से 200 तक पढ़ने के लिए क्लिक करें : स्वप्न फल (Swapna phal) – भाग 8

YOU MAY LIKE
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here