सेक्स ही नहीं, प्यार भी देगी इंसान जैसी RealDoll

981
Loading...

नजर में आपको यह कोई मॉडल लग रही होगी मगर असल में यह एक डॉल है। और सटीक बताएं तो सेक्स डॉल है। सेक्स डॉल यानी यौन संतुष्टि पाने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला ऐसा सेक्स टॉय जो इंसानों जैसा नजर आता हो। मगर यह कोई सामान्य सेक्स डॉल नहीं है। इसमें कुछ ऐसा है कि आप जानकर हैरान रह जाएंगे। यह इंसान से भावनात्मक रूप से प्यार में भी पड़ सकती हैं।

क्या खास है इनमें…

सेक्स ही नहीं

रोबॉट टेक्नॉलजी के फ्यूचर को लेकर लंबे समय से यह कहा जाता रहा है कि आने वाले वक्त में इंसान न सिर्फ रोबॉट्स से अपनी शारीरिक जरूरतें पूरी करेगा बल्कि हो सकता है कि वह भावनात्मक रूप से भी उनसे जुड़ जाए। इस कॉन्सेप्ट पर कई फिल्में और टीवी सिरियल्स बन चुके हैं। मगर अब यह बात सच होती नजर आ रही है क्योंकि एक कंपनी ने ऐसी सेक्स डॉल्स बनाई हैं जो इंसानों की तरह व्यवहार कर सकती है।
सबसे पहले बात करते हैं रियलडॉल की। रियलडॉल नाम की कंपनी की स्थापना अमेरिका में 1997 में हुई थी और यह तभी से इंसान जैसी लगने वाली सेक्स डॉल्स बना रही है। सेक्स डॉल्स उन सेक्स टॉएज को कहा जाता जिन्हें मैस्टरबेशन के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इनकी खासियत यह होती है कि इन्हें इंसान जैसा रंग-रूप दिया जाता है।
इन डॉल्स को इस तरह से बनाया गया है ताकि ये देखने और महसूस करने में इंसान जैसी लगें। इसके लिए शरीर की बनावट और चेहरे के फीचर्स पर खास ध्यान दिया गया है। इन्हें सिलिकन से बनाया गया है ताकि छूने पर इंसान जैसा ही अहसास हो। मगर अब कंपनी ने इन्हें और ज्यादा सजीव बनाने की कोशिश की है। अब ये सेक्स डॉल्स से बढ़कर सेक्स रोबॉट्स बन गई हैं।
सेक्स ही नहीं
Abyss Creations नाम की ने नया स्मार्टफोन ऐप लॉन्च किया है जिसका नाम हारमनी AI रखा गया है। यह ऐप ReadlDoll सेक्स रोबॉट्स को आर्टिफिशल इंटेलिजेंस देता है। RealDoll यूजर इस ऐप के जरिए अपने सिलिकॉन के बने पार्टनर से बात कर सकते हैं और उसे अपने प्यार में दीवाना भी कर सकते हैं।
इस AI में मशीन लर्निंग सिस्टम है जिससे सेक्स रोबॉट याद रखता है कि पहले क्या बातचीत हुई है। इसलिए वह इंसानों की ही तरह उन बातों को ध्यान में रखते हुए बात कर सकता है। यही नहीं, आप चुनाव कर सकते हैं कि आपके सेक्स रोबॉट का नेचर कैसा होना चाहिए।
यूजर्स को 18 तरह के नेचर वाली पर्सनैलिटी चुनने की सुविधा मिलेगी। वे चाहें तो अपनी सेक्स रोबॉट को खुशमिजाज, शर्मीली, मजाकिया, ईर्ष्यालु, संवेदनशील, बातूनी और उत्तेजक बना सकते हैं।
कंपनी का कहना है कि इस आर्टिफिशल इंटेलिजेंस की मदद से लोग अपने पार्टनर के साथ रिश्ते को और मजबूत कर सकेंगे। कंपनी के मुताबिक लोग सेक्स बॉट से जितनी ज्यादा बात करेंगे, वह उतनी ही ज्यादा कनेक्टेड फील करेगी। कंपनी का कहना है कि इससे अहसास होगा कि रोबॉट भी आपके प्यार में है। इस तरह की AI वाली सेक्स डॉल्स विभिन्न परिस्थितियों में अलग तरह से जवाब दे सकती हैं। आप अगर पूछेंगे कि भूख लग रही है तो यह जवाब देगी कि आपने बताया था कि आपको पित्ज़ा पसंद है, वही ऑर्डर कर लीजिए।
सैंटोज़ का कहना है कि इसे टच सेंसिटिव बनाया गया है ताकि यह उसी तरह से व्यवहार करे, जैसा व्यवहार असली इंसान करता है। अभी इस रोबॉट को हाथ पकड़ना या हग करना अच्छा लगता है। सैंटोज़ चाहते हैं कि इसे और विकसित किया जाएगा ताकि सेक्स के दौरान यह ऑर्गैज़म भी फील कर सके।
Loading...

समांथा को सैंटोज़ ने इस तरह से प्रोग्राम किया है कि इसे कुछ कस्टमाइज्ड मोड्स में डाला जा सकता है। जैसे कि रोमांटिक मोड में डालने पर यह रोमांटिक व्यवहार करेती है और फैमिली मोड में डालने पर परिवार को ध्यान में रखते हुए बात करती है। इसमें सेक्सी मोड भी है।

यह तो हुई कस्टमाइज्ड आर्टिफिशल इंटेलिजेंस की बात। आगे जानें, कैसे बनाई जाती है RealDoll और उसकी कीमत क्या है। 

इंसान जैसी दिखने वालीं ये सेक्स डॉल्स फ्लेक्सिबल ढांचे पर बनी है। शुरू से लेकर आखिर तक पूरी डॉल बनाने में 80 घंटे लगते हैं। कई बार चेकिंग की जाती है ताकि कहीं पर कोई कमी न लगे। इंसान जैसा बनाने के लिए हर बारीक पहलू पर ध्यान दिया जाता है। खरीदने से पहले ग्राहक ऑर्डर देते वक्त इन डॉल्स को कस्टमाइज करवा सकते हैं। वे चाहें तो प्राइवेट पार्ट्स को भी पसंद के हिसाब से चुन सकते हैं।

एक बार खरीद लेने के बाद सेक्स रोबॉट के शरीर को तो नहीं बदला जा सकता मगर नए चेहरे खरीदे जा सकते हैं। कंपनी ने चेहरों को रिप्लेस करने का फीचर दिया है। चेहरे के अलावा बाल भी बदले जा सकते हैं। इसके लिए कंपनी ने विग्स भी बनाए हैं। वे चाहें तो किसी खास चेहरे की नकल बनाने ऑर्डर भी दे सकते हैं मगर उसके लिए अतिरिक्त पैसा खर्च करना होगा। ​फीमेल डॉल्स में 18 बॉडी टाइप्स को चुना जा सकता है। कंपनी मेल फिगर्स भी बनाती है मगर उसमें दो ही वेरियंट्स उपलब्ध हैं।

आगे जानें, कीमत क्या है इनकी।

सेक्स ही नहीं

अब बात करते हैं कीमत की। इन सेक्स डॉल्स का बेसिक मॉडल करीब 4 लाख 20 हजार रुपये में उपलब्ध है। इनमें AI सिस्टम लगाने के बाद कीमत 10000 डॉलर्स यानी करीब साढ़े 6 लाख रुपये हो जाती है। साथ ही हर साल Hamrmony AI ऐप के लिए 20 डॉलर्स (करीब 1300 रुपये) का सालाना शुल्क देना होगा। ऐप अभी ऐंड्रॉयड स्मार्टफोन्स के लिए ही उपलब्ध है। इसे कंपनी की वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है।

 

YOU MAY LIKE
Loading...