कंडोम ना मिलने पर अस्‍पताल के बाहर धरने पर बैठ गया युवक, जानिए फिर क्‍या हुआ

अस्‍पताल में इलाज की कमी, डॉक्‍टरों की लापरवाही या फिर लचर स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था को लेकर प्रदर्शन होने की खबर आपने पढ़ी होगी और शायद देखी भी होगी। लेकिन कर्नाटक के एक सरकारी अस्‍पताल में एक युवक अलग ही मामले को लेकर धरने पर बैठ गया। जी हां सरकारी अस्‍पताल में कंडोम उपलब्‍ध न होने के चलते गणेश नाम का युवक धरने पर बै गया। इतना ही नहीं उसने अस्‍पताल प्रशासन पर गंभीर आरोप भी लगाए।

जानकारी के मुताबिक यह दिलचस्‍प वाक्‍या चिकमंगलुरू का है। यहां का रहने वाला गणेश नामक युवक तिप्‍तूर में अपनी पत्‍नी से मिलने आय था। पत्‍नी से मिलने से पहले वो सरकारी अस्‍पताल में कंडोम खरीदने गया। गणेश को जब कंडोम नहीं मिला तो उसने अस्‍पताल प्राधिकरण से मुलाकात की। मुलाकात पर गणेश को जवाब मिला कि कंडोम तो थे लेकिन किसी ने चोरी कर ली। इस जवाब से गणेश संतुष्‍ट नहीं हुआ और अस्‍पताल के सामने ही धरने पर बैठ गया। उसकी मांग थी कि उसे फौरन कंडोम दिया जाए। अचानक धरने से डॉक्‍टर और अस्‍पताल के स्‍टाफ सकते में आ गए। उन्‍होंने गणेश से धरना समाप्‍त करने का अनुरोध किया लेकिन वह नहीं माना। अंत में हॉस्पिटल को युवक की मांग के आगे झुकना ही पड़ा और एक प्राइवेट मेडिकल शॉप से कंडोम खरीद कर गणेश को फ्री में दे दिया।

क्‍या कहना है गणेश का

गणेश ने कहा, ‘एचआईवी और यौन संबंधी अन्य बीमारियां तेजी से फैल रही हैं। सरकारी हॉस्पिटल में तो कम से कम कंडोम डिस्पेन्सर्स का होना जरूरी ही है। मैंने एक मुद्दे को लेकर प्रदर्शन किया और मैं इससे कतई शर्मिंदा नहीं हूं।’

Add a Comment