हाथों से बनाएं सेक्स को मजेदार

0
771
Loading...

संभोग कोई काम नहीं है, इससे पूर्ण आनंद प्राप्ति के लिए इसे महसूस करने की और ठीक प्रकार से इसे करने की जरूरत होती है। जिसमें हाथों के प्रयोग की बेहद अहम भूमिक होती है।
1
हाथों का कमाल
सेक्स क्रिया में पूर्ण संतुष्टि पाने के लिए स्त्री और पुरुष दोनों के हाथों की भी बेहद महत्वपूर्ण भूमिका होती है। एक – दूसरे को किये गये स्पर्श सेक्स को और भी ज्यादा रोमांचक और आनंददायक बना देते हैं। हाथों के सही प्रयोग और सही स्पर्श मात्र से ही स्त्री व पुरुष दोनों उत्तेजना का अनुभव करने लगते हैं। चलिये जानें कि सेक्स के दौरान हाथों की महत्वपूर्ण भूमिका क्यों है।

हाथों का कमाल
2
विशेषज्ञों का मत
विशेषज्ञों का मानना है कि रतिक्रिया में सही तरीके से किया गया स्पर्श स्त्री को परम आनंद देता है। स्त्री को सही स्पर्श से अधिक सुख मिलता है। सेक्स विशेषज्ञों के अनुसार सेक्स क्रिया के पहले स्त्री को विशेष रुप से किये कुछ स्पर्श उसे सेक्स के चरम आनंद का अनुभव कराते हैं।

3
क्या होता है हाथों के स्पर्श का प्रभाव
सेक्स क्रिया से पहले या इसके दौरान स्त्री के पूरे शरीर पर हल्के हाथों से सहलाने से त्वचा के नीचे स्थित तंत्रिकाओं में तेजी से खून दौड़ने लगता है और मन में सेक्स की इच्छा उत्पन्न होने लगती है। इस तरह मन में कामेच्छा उत्पन्न होने से मस्तिष्क में हार्मोन्स का स्राव होने लगता है जो तंत्रिकाओं के द्वारा प्रवाहित होते हुए कामांगों तक पहुंच जाता है जिससे सेक्स क्षेत्र उत्तेजित हो जाते हैं। सेक्स क्रिया से पहले स्त्री के शरीर पर हल्के-हल्के सहलाने से शरीर के सेक्स हार्मोन क्रियाशील होकर अपना काम तेजी से करने लगते हैं।

Loading...

4
कैसी हो पोजीशन
सेक्स के दौरान बाईं और लेटें ताकि अपने दाएं हाथ से स्त्री के संवेदनशील अंगों को सहला सकें। अगर आपका बांया हाथ तेजी से चलता हो तो दाएं करवट लेटकर भी सेक्स क्रिया आसानी से की जा सकती है।

5
स्तनों को स्पर्श
सेक्स क्रिया करने से पहले स्त्री के कामुक अंगों के छूने से उनमें उत्तेजना पैदा होती है और स्तन उनमें से सबसे प्रमुख हैं। पुरुष को चाहिए कि वह अपने दोनों हाथों से आराम से स्त्री के स्तनों को सहलाए। ऐसा करने से स्त्री को कमाल के आनंद की अनुभूति होती है।

6
हाथों की पकड़
जब सेक्स के दौरान पुरुष पहली साथी को मजबूती से पकड़ता है तो स्त्री की निर्भरता पुरुष पर ज्यादा बढ़ती है और वह ज्यदा खुल कर रति क्रिया में शामिल हो पाती है। इस प्रकार पकड़ने से वह पुरुष के पुरुषार्थ को महसूस कर पाती है।

7
खास जगह खास स्पर्श
सेक्स क्रिया में स्त्री को उत्तेजित करने के लिए आप अपने हाथों, चेहरे और होंठों से भी उसके कामुक अंगों जैसे उसके होंठों, कमर, गर्दन और पेट के निचले भाग तथा G – स्‍पॉट पर स्पर्श कर सकते हैं।

8
उंगलियों से खेलें
सेक्स क्रिया को सफल और आनंदित बनाने के लिए अपने हाथों से स्त्री के यौन उत्तेजक अंगों को हल्के हाथों से स्पर्श करना चाहिए। साथ ही रति क्रिया के दौरान बीच – बीच में उंगलियों की मदद से उसके बालों से भी खेलते रहना चाहिए।

9
क्या कहते हैं शोध
ऑस्‍ट्रेलियन सेक्‍स रिसर्चर जूलियट रिचटर्स की शोध के अनुसार पांच में से केवल एक महिला ने माना कि वे केवल एकदम सामान्य तरीके से किए संभोग से ही चरम तक पहुंच जाती हैं। जबकि ज्‍यादातर युवा महिलाओं का मानना था कि वे अपने पार्टनर से चाहती है कि वे सेक्‍स के दौरान अपने हाथ और मुंह का भी ज्‍यादा इस्‍तेमाल करें। जूलियट ने अपनी किताब के लिए 19 हजार लोगों पर यह सर्वे किया था।

10
अन्‍य संवेदनशील अंगों को भी पहचानें
सेक्‍स विशेषज्ञों ने पाया कि केवल G – स्‍पॉट ही महिलाओं में आनंद देने के लिए पर्याप्‍त नहीं है, बल्कि महिलाओं के शरीर में और भी ऐसे भाग होते हैं जहां हाथओं की छुवन से संवेदना पैदा होती है। इसमें A- स्‍पॉट भी शामिल है, जहां सहलाने से महिलाओं का शरीर यौन क्रिया के लिए पूरी तरह से तैयार हो जाता है। इस काम में उंगलियों की कारस्‍तानी बेहद काम आती है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here