भुलकर भी इस रहस्यमयी मंदिर में ना रुके रात नही तो बन जाओगे पथ्थर ,वजह जानकर चौंक जाओगे आप

हिन्दूधर्म में कई जुड़े कई ऐसे रहस्य है जिन्हें जानना किसी आन व्यक्ति के बस में नही है। कितने ही वैज्ञानिक इन तथ्यों को जानने का प्रयास करते है उनमे से अधिकतर तथ्य तो विज्ञान की परिपाटी पर खरे उतारते है किन्तु कई तथ्यों का आज ही विज्ञान पता नही लगा पाया है। ऐसे ही आज हम बात कर रहे है राजस्थान के बाडमेर जिले का किराडू मंदिर की । यह मंदिर अपने रहस्य के लिए दुनियाभर में प्रसिद्ध है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि शाम ढ़लने के बाद यहां ठहरने वाले लोग पत्थर का बन जाता है। इसके पीछे एक साधु का श्राप माना जाता है।

किराडू मदिर का रहस्य ,गज़ब दुनिया

कहा जाता है कि सालों पहले किराडू में एक तपस्वी पधारे। इनके साथ शिष्यों की एक टोली थी। एक दिन तपस्वी अपने शिष्यों को गांव में छोड़कर भ्रमण पर चले गए। इस बीच शिष्यों का स्वास्थ्य खराब हो गया। गांव वालों ने इनकी कोई मदद नहीं की। तपस्वी जब वापस किराडू लौटे और अपने शिष्यों की दुर्दशा देखी तो गांव वालों को श्राप दे दिया कि जहां के लोगों के हृदय पत्थर के हैं, वह इंसान बने रहने योग्य नहीं हैं इसलिए सब पत्थर के हो जाएं।

किराडू मदिर का रहस्य ,गज़ब दुनिया

पूरे गांव में केवल एक ही महिला थी, जिसने शिष्यों की मदद की थी। तपस्वी ने उस पर दया करते हुए कहा कि तुम गांव से चली जाओ वरना तुम भी पत्थर की बन जाओगी लेकिन, याद रखना जाते समय पीछे मुड़कर मत देखना। महिला गांव से चली गई लेकिन उसके मन में यह संदेह होने लगा कि तपस्वी की बात सच भी है या नहीं।

किराडू मदिर का रहस्य ,गज़ब दुनिया

इसी बात की सच्चाई जानने के लिए वह पीछे मुड़कर देखने लगी और वह भी पत्थर की बन गयी। उस महिला की पत्थर की मूर्ति आज भी किराडू मंदिर से कुछ दूरी पर बसे सिहणी गांव में देखी जा सकती है। महिला की वह पत्थर की मूर्ति इस घटना का प्रमाण मानी जाती है।