दुनिया के इस देश में चलती है भगवान राम की फोटो वाली करेंसी….

1870
Loading...

मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम हिंदुओं के सबसे बड़े भगवानों में से एक हैं। भारत एक धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र है यहां श्रीराम की फोटो करेंसी में तो नहीं हैं लेकिन दुनिया की कुछ जगहें हैं जहां श्रीराम की फोटो वाली करेंसी का नोट चलता है।

राम नामकी इस करेंसी को शुरू एक मेडीटेशन के भारतीय गुरु महर्षि महेश योगी ने किया था। उन्होंने यह करेंसी 7 अक्टूबर 2000 को शुरू की थी। महर्षि के दुनियाभर में लाखों फॉलोअर्स हैं। महर्षि महेश योगी ने ग्लोबल कंट्री ऑफ वर्ल्ड पीस (जीसीडब्ल्यूपी) की स्थापना की थी।

यह एक एनजीओ है जो ध्यान, शिक्षा, और दुनिया के मुख्य शहरों में शांति को स्थापित करने को बढ़ावा देता है। इस संगठन ने दुनिया के विभिन्न हिस्सों में रह रहे ऐसे लोगों को जोड़ा जिन्हें शांति पसंद है। इन्हीं लोगों के बीच उन्होंने एक करेंसी जारी की जिसका नाम ‘राम’ रखा। इसके लीडर न्यूरोलॉजिस्ट टोनी नाडेर हैं। साल 2002 में जीसी डब्ल्यूपी अमेरिका के शहर लोवा के साथ सम्मिलित हो गया था। यहां महर्षि वैदिक सिटी के नाम से इसका हैडक्वार्टर है। इसके अलावा इसके कई एजुकेशनल सेंटर यूएस, नीदरलैंड और आयरलैंड में हैं।

Loading...

महर्षि महेश योगी राम के सबसे बड़े भक्त हैं इसलिए उन्होंने राम के नाम से करेंसी शुरू की थी। इसके बाद से 125 डच दुकानों, और कुछ अमेरिका में दुकानों ने, इस करेंसी को स्वीकारा। इनमें से कुछ दुकानें बड़े डिपार्टमेंट स्टोर का अंग है। यहां करीब 30 गांव और शहर इन नोटों को स्वीकार करते हैं। एक राम करेंसी 10 यूरो के बराबर है। मौजूदा समय में 1 लाख राम करेंसी सर्कुलेशन में है।

YOU MAY LIKE
Loading...