इस पर्वत पर रहतें हैं रामभक्त हनुमानजी

0
425
शास्त्रों के मुताबिक़ कलयुग में कैलाश पर्वत के उत्तर में गंधमार्दन पर्वत पर चिरंजीवी रामभक्त हनुमान निवास करेंगे. माना जाता है कि इसी पर्वत पर ऋषियों और अप्सराओं का भी वास है. यह पर्वत आज तिब्बत में स्थित है, यहाँ किसी वाहन से पहुंचना मुश्किल है. लोग मानते हैं कि यहाँ श्रीराम के पदचिह्न भी मौजूद हैं.

पुराणों में उल्लेख है कि कलियुग में हनुमान गंधमार्दन पर्वत पर निवास करते हैं। एक कथा के अनुसार, अपने पांडव अज्ञातवास के समय हिमवंत पार करके गंधमादन पर्वत के पास पहुंचे थे। उस समय भीम सहस्त्रदल कमल लेने के लिए गंधमार्दन पर्वत के वन में चले गए थे। यहां पर उन्होंने भगवान हनुमान को लेटे देखा। इसी समय हनुमान ने भीम का घमंड भी चूर किया था। 

YOU MAY LIKE
Loading...