आज भी भारत के इस गाँव में हनुमान जी की पूजा करना माना जाता है गुनाह

हनुमान जी की पूजा – ऐसा माना जाता है कि कलियुग में आज भी एक ऐसा देवता मौजूद हैं जो अपने भक्‍तों की हर मनोकामना पूर्ण करते हैं।सभी कष्‍टों को हरने वाले हनुमान जी ही वो देवता हैं जो आज भी मौजूद हैं और मनुष्‍य जाति की रक्षा कर रहे हैं।

भारत में भगवान राम के बाद हनुमान जी की पूजा सबसे ज्‍यादा की जाती है। शनिवार और मंगलवार के दिन तो जैसे हनुमान जी के मंदिरों में मेला सा लग जाता है। आपने अब तक सोचा होगा कि हनुमान जी को देश के हर कोने में पूजा जाता है क्‍योंकि उनकी पूजा से हर तरह के कष्‍ट दूर हो जाते हैं लेकिन आपको बता दूं कि देश में एक ऐसी भी जगह है जहां पर हनुमान जी की पूजा नहीं की जाती है और यहां तक कि उनका नाम लेना भी यहां गुनाह है।

Loading...

हनुमान जी की पूजा –

 

उत्तराखंड के चमोली में स्थित एक गांव में ऐसा होता है। इस गांव में हनुमान जी की एक भी मूर्ति नहीं है। हनुमान जी के प्रति जो इस गांव में फैली नफरत है वो आज की नहीं बल्कि रामायण काल पुरानी है। जब मेघनाद के बाणों से लक्ष्‍मण जी घायल हो गए थे तब वैद्य जी ने हनुमान जी को हिमालय से संजीवनी बूटी लाने के लिए भेजा था।

इसके बाद हनुमान जी उत्तराखंड के चमोली जिले में स्थित द्रोणागिरि पर्वत पर पहुंचे।हनुमान जी जब संजीवनी बूटी लेने पहुंचे तो गांव की एक महिला ने उन्‍हें पर्वत का वह हिस्‍सा दिखाया जहां पर संजीवनी उगती थी। तब हनुमान जी संजीवनी की जगह पूरा पहाड़ ही उखाड़कर ले गए। तभी से इस गांव के लोग हनुमान जी से नाराज़ रहते हैं और ये परंपरा इस तरह सदियों से चलती आ रही है।

उस समय के बाद से ना तो इस गांव में हनुमान जी की पूजा की जाती है और ना ही कोई उनका नाम लेता है। यहां के लोग हर साल द्रोणागिरि की पूजा करते हैं लेकिन इस पूजा में महिलाओं को शामिल नहीं किया जाता है क्‍योंकि एक महिला ने ही द्रोणागिरि पर्वत का वह हिस्‍सा दिखाया था जहां संजीवनी बूटी उगती थी।

 

इस प्रकार चमोली के इस गांव में एक महिला की गलती की सज़ा आज तक हज़ारों महिलाएं भुगत रही हैं साथ ही हनुमान जी के पूरा संजीवनी पर्वत उठा ले जाने का भी आरोप लगा है जिसकी वजह से इस गांव में उनकी पूजा नहीं की जाती है।

आपको जानकर हैरानी हो रही होगी कि भला भारत जैसे हिंदू धर्म को वरीयता देने वाले देश में हनुमान जी की पूजा कैसे नहीं होती है बल्कि हनुमान जी को सभी मुसीबतों का निवारण करने वाला कहा जाता है। कहते हैं कि अगर आप किसी समस्‍या या संकट में फंसे हैं तो हनुमान जी की पूजा कर लें, वो आपके सारे दुख दूर करेंगें और आपके ऊपर अपनी कृपा बनाए रखेंगें।

हनुमान जी की पूजा – कहीं ना कहीं आपको भी इस बात पर यकीन करने में दिक्‍कत हो रही होगी कि भला देश में ऐसा भी कोई स्‍थान हो सकता है जहां पर हनुमान जी का नाम लेना पाप समझा जाता है।

YOU MAY LIKE
Loading...