मोका देख घर में घुस आया प्रेमी, लड़की कुछ बोलती उससे पहले तो लड़के को जो करना था तो

राजस्थान के बांसवाडा में एक मनचले आशिक का शर्मनाक मामला सामने आया है , यहाँ पर एक आशिक ने लड़की की दर्दनाक हत्या कर, बुधवार को 18 साल की वैशाली शर्मा की दर्दनाक हत्या करने के आरोपी जगदीश बंजारा ने गुरुवार को अपना गुनाह कबूला ।

पुलिस के मुताबिक, घटना वाले दिन वह पूरे दिन चुप रहा। थोड़ा कुछ बोलता और खामोश हो जाता। लेकिन, गुरुवार को उसने गुनाह कबूला। अगरपुरा कॉलोनी में बुधवार दोपहर 12 बजे ये वारदात हुई। जिसमें फर्स्ट ईयर में पढ़ने वाली 18 साल की वैशाली और उसके पिता पिंकेश शर्मा घर पर थे।

विकलांग पिता घर में ऊपर की मंजिल पर थे और वैशाली नीचे की बालकनी में बाई के साथ कपड़े सुखाने के लिए आई थी। तभी पड़ोसी जगदीश बंजारा दीवार फांद कर घुस गया और वैशाली की गर्दन पर ताबड़तोड़ हमला शुरू कर दिया।

इधर, मृतका के पिता पिंकेश ने बताया कि जगदीश और उसका भाई रमेश, दोनों वैशाली को लंबे समय से परेशान कर रहे थे। इसकी शिकायत वैशाली ने अपने घरवालों से भी कर रखी थी। कॉलोनी वालों ने जगदीश के आए दिन उधम मचाने की शिकायत पुलिस को की। परिजनों ने बताया कि वैशाली और जगदीश पहले एक ही क्लास में साथ पढ़े हैं। अभी तक की जांच में सामने आया है कि जगदीश एकतरफा प्यार में था।

आरोपी का परिवार फरार, 7 पुलिसकर्मी कर रहे घर की रखवाली :

इधर, घटना के दूसरे दिन बाद भी जगदीश के भाई और माता-पिता काे पुलिस ढूंढ़ नहीं पाई है। वारदात के बाद से आरोपी के परिजन फरार हैं। आरोपी जगदीश का घर वैशाली के घर के ठीक सामने है। चूंकि, वैशाली की हत्या के दिन भी गुस्साए कुछ युवाओं ने जगदीश के घर की ओर गए, जिन्हें पुलिस ने समझाइश कर लौटा दिया था।

Add a Comment