जानिए क्या रहस्य है अटाकामा के रेगिस्‍तान में जमीन से निकलते हुए हाथ का

पेन अमेरिका हाईवे से आप 36 फुट ऊंचे सीमेंट के हाथ को देख सकते हैं। ये हाथ दुनिया के सबसे सूखे स्‍थान पर बना हुआ है। इस जगह का नाम है अटाकामा डेजर्ट। कई सौ किलोमीटर में फैली रेत में खड़ा हाथ अपने आप में बहुत अद्भुत नजर आता है। इसे मैनो डेल डेजेर्टो कहा जाता है।

अटाकामा डेजर्ट

अटाकामा रेगिस्‍तान के लैंडस्‍केप वहां की खासियत है। जहां पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के लिये कोई नहीं है। 1922 में ये दुनिया का सबसे सूखा स्‍थान था। जब आप वहां जायेंगे तो दूर से आप को एक सीमेंट का हाथ नजर आयेगा जो यहां की खूबसूरती में चार चांद लगा देता है।

अटाकामा डेजर्ट

25 साल पहले यहां के लोगों ने चिली के रेगिस्‍तान में एक कलाकृति बनाने की सोची। उन्‍होंने जमीन से निकला हुआ एक बहुत बड़ा हाथ सीमेंट की मदद से बनाया। 600 मील के इलाके में वहां पर सिर्फ बालू, पहाड़ और चट्टाने हैं। पेरू के साउथर्न बॉडर से लेकर नॉर्थन चिली तक कला का काम है।

अटाकामा डेजर्ट

अटाकामा की यह सबसू खूबसूरत चीज है। मीलों दूर तक वहां कोई नजर नहीं आता है। हर ओर कंकड़ पत्‍थर औश्र रेत के पहाड़ नजर आते हैं। उस हाथ से 60 मील की दूरी पर एक जगह है। यह इंसानो द्वारा बनाई गई आर्ट गैलेरी नहीं है।

उरुग्‍वे में भी एक ऐसा ही हाथ बनाया गया है। जो रेत को भरने की कोशिश कर रहा है। उरुग्‍वे में हाथ की उंगलियां और अंगूठा निकला हुआ दिखाया गया है। इसे पुंटा डेल एस्‍ता कहा जाता है।

YOU MAY LIKE