जानिए किस आंख का फड़कना है शुभ और किसका अशुभ

अंग ज्योतिष के अनुसार हमारे शरीर का हर अंग के फड़कने का कोई न कोई अर्थ होता है। यहां तक ही आगे होने वाली घटनाओं के बारें में भी वह सूचना दे देते है। इसी तरह हमारी आंख के फड़ने का भी अशुभ और शुभ अर्थ होता है। जानिए कौन सी आंख के फड़कने का अर्थ शुभ है और किसका नहीं।

 

दाहिना आँख (Right eye)का फड़कना

दाहिना आँख (Right eye)का फड़कना

सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार दाईं आंख का फड़कना पुरुषों के लिए शुभ माना जाता है जबकि बाईं आंख का फड़कना महिलाओं के लिए शुभ माना जाता है।

 

बाईं आंख (left eye) फड़कना

वहीं अगर स्त्रियों की बाईं आंख की पलक और भौंवें फड़के तो उनके लिए यह शुभ माना जाता है लेकिन पुरुषों के लिए स्थिति बिल्कुल उल्टा हो जाती है। पुरुषों की किसी पुराने दुश्मन से लड़ाई हो सकती है या किसी से दुश्मनी बढ़ सकती है।

 

दाईं आंख (Right eye)की पलक और भौंहों का फड़कना

यदि पुरुषों की दाईं आंख की ऊपरी पलक और भौंवें फड़कती हैं तो माना जाता है कि उनके मन की सारी इच्छाएं पूरी हो जाती है और पदोन्नति व धन लाभ होता है परंतु अगर महिलाओं की दाईं आंख की ऊपरी पलक और भौवें फड़के तो उनके लिए ये अशुभ मानी जाती है और उनके सारे काम बिगड़ाने वाली होती हैं।