जाने कैलाश मानसरोवर मंदिर और पर्वत के बारे में

कैलाश मानसरोवर दुनिया की सबसे दुर्गम और सुंदर तथा अद्‍भुत यात्रा है। कैलाश मानसरोवर वही पवित्र जगह है जिसे शिव का धाम माना जाता है। पौराणिक कथाओं के अनुसार मानसरोवर के पास स्थित कैलाश पर्वत पर शिव-शंभू का धाम है। यही वह पावन जगह है, जहां शिव-शंभू विराजते हैं। कैलाश पर्वत 22,028 फीट ऊंचा एक पत्थर का पिरामिड है जिस पर सालभर बर्फ की सफेद चादर लिपटी रहती है। 

 

कैलाश पर्वत की तलछटी में कल्पवृक्ष लगा हुआ है। कैलाश पर्वत के दक्षिण भाग को नीलम, पूर्व भाग को क्रिस्टल, पश्चिम को रूबी और उत्तर को स्वर्ण रूप में माना जाता है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार यह जगह कुबेर की नगरी है। यहीं से महाविष्णु के कर-कमलों से निकलकर गंगा कैलाश पर्वत की चोटी पर गिरती है, जहां प्रभु शिव उन्हें अपनी जटाओं में भर धरती में निर्मल धारा के रूप में प्रवाहित करते हैं। 

YOU MAY LIKE
Loading...