इस भ्रम से बाहर निकलिए की हस्तमैथुन से कोई नुकसान नहीं होता है ! आप भी कर रहे हो ये गलती तो हो सकते है…

हस्त मैथुन को लेकर आजकल बहुत सी भ्रांतियां फैलाई जाती है की हस्त मैथुन से कोई नुकसान नही है बल्कि फायदा है अगर आप भी ऐसा ही सोचते है तो आपको इसके बारे में अभी ओर जानकारी की आवश्यकता है | अगर आप देखेंगे तो पाएंगे की सेक्स प्रोब्लम्स से सबसे ज्यादा पीड़ित 18 से 30 साल की उम्र के युवा रहते हाई इसके पीछे कारण है अक्सर हस्त मैथुन कर लेना | आज की मिडिया और टेलीविजन हमारे सामने बस सेक्स को ही परोस रहे है जिससे हर कोई प्ले बॉय बनाने की होड़ में लगा हुआ है परन्तु इस क्षणिक आनंद के पीछे हम ये भूलते जा रहे है की किनती बीमारीयां हमारे साथ चल रही है जो आने वाले हमारे सुनहरे भविष्य को बर्बाद कर देगी |

हस्तमैथुन से होने वाले प्रमुख नुकसान

अक्सर हस्तमैथुन करने से हमारा शरीर इसका आदि हो जाता है जिसकी वजह से व्यक्ति रोजाना या दिन में कई बार करने लगता है | हस्तमैथुन करने से हथेली की मजबूत पकड़ और उसकी गर्मी के कारण लिंग में समय के साथ मोटापन विकसित नहीं हो पाता | मुठ मारने से लिंग में हल्का या थोडा भी घर्षण लगने पर अक्सर इसमे उत्तेजना होने लगती है | 30-35 साल की उम्र तक पहुचते पहुचते लिंग में तनाव आना कम होने लगता है, धातु रोग हो जाता है | अधिक हस्त मैथुन से लिंग में टेड़ापन आ जाता है जिसके कारण व्यक्ति सही से सेक्स नही कर पता है |

अधिक हस्तमैथुन करने वाले युवको में अक्सर देखा गया है की आगे चलकर उनके लिंग में तनाव आना बहुत कम हो जाता है | युवक स्त्री के समक्ष ज्यादा देर टिक नहीं पाता है और पलभर में ही शांत हो जाते है | अधिक मात्रा में करने से 22 से 27 साल की उम्र में ही धातु रोग होने की सम्भावना 90% तक बढ़ जाती है |

 अधिक मात्र में मुठ मारने वाला युवक अक्सर बिस्तर में महिला को कभी संतुष्ट नहीं कर पाता है! शास्त्रों में इस के लिए भ्रमचर्या के पालन के बारे में जोर दिया गया है |मूत्र त्याग के समय लिंग से धातु चिपचिपे और तारयुक्त प्रदार्थ के रूप में गिरने लगता | जो धातु रोग की निशानी है |

युवा अक्सर स्खलन से समय लिंग को दबाकर रोकने की कोशिश करते है जो जिससे लिंग की नसे और लिंग को बहुत नुकसान पहुचता है | स्खलन को कभी रोकना नहीं चाहिए |अधिकतर हस्तमैथुन करने वाले युवको को आगे चलकर लिंग में स्खलन के बाद दर्द का अनुभव होता है और एक बार स्त्री से सम्भोग करने के बाद दोबारा उसमे उत्तेजना आने में कई घंटे लग जाते है |

उपाय और बचाव 

1.कामोत्तेजना अगर परेशान करे तो खुद को व्यस्त रखे और अच्छी किताबे पढ़े |
2.आयुर्वेद के अनुसार कामोत्तेजना अधिक होने पर 3 चम्मच धनिया रात में पानी में भिगोकर सुबह पानी छानकर रोज पियें | कुछ समय तक ये प्रयोग करते रहे , जरूर लाभ होगा |
3.हमेशा कामुक विचारो से बचे और उत्तेजक बातों पत्र- प्रतीकाओं व फिल्मो से दूर रहे |
4.व्यायाम और ताड़ासन करें, पंजो के बल खड़े होकर अपने हाथ सीधे ऊपर की तरफ खीचे इससे बहुत लाभ होगा |
5.फ़ास्ट फ़ूड, पिज्जा, बर्गर, मसालेदार, तीखा इत्यादी भोजन व सेवन करने से भी उत्तेजना बढती है |

YOU MAY LIKE