पोर्न देखने के फायदे जानकर उड़ जायेंगे हौश ,आप भी आज से देखने लगेंगे पोर्न

 

1.पॉर्न का महिलाओं की कामेच्छा पर असर

क्या पॉर्न देखना महिलाओं की कामेच्छा पर भी असर डालता है? इस संबंध में विशेषज्ञ बताते हैं कि कुछ मामलों में यह कामेच्छा को बढ़ा सकता है तो अन्य मामलों में कामेच्छा कम भी हो सकती है, लेकिन एक बात तो है कि पॉर्न देखने पर संतुष्टि मिलती है। कई अध्ययनों में यह साबित हुआ कि पॉर्न देखना रिश्तों और मस्तिष्क के लिए बुरा है, वहीं कई अन्य अध्ययन यह भी कहते हैं कि पॉर्न देखना मस्तिष्क या दिमाग को स्थायी नुकसान नहीं पहुंचाता बल्कि यह आपके लिए अच्छा हो सकता है। विशेषज्ञ सलाह देते हैं, पॉर्न को केवल शारीरिक सुख के लिए न देखें, बल्कि अपने साथी के साथ एक संपूर्ण सुखद अनुभव के लिए देखें। अगर आंकड़ों पर नज़र डालें तो, इस सहस्त्राब्दि में 60 प्रतिशत पॉर्न स्मार्टफोन पर देखी जाती हैं और मात्र 30 प्रतिशत लोग ही इसे कम्प्यूटर पर देखते हैं।

2.महिलाएं क्यों देखती हैं पोर्न

पुरुषों की तुलना में महिलाओं के पोर्न देखने के पीछे के अंतर को देखने का एक आसान तरीका है। सालों से महिलाओं को कामुकता के दृश्य माध्यमों ने कम आकर्षित किया है। उन्हें ऑनलाइन चैट रूम की भावनात्मक यौन अपील ने अश्लील साइटों के बनिस्पद ज्यादा आकर्षित किया है। महिलाओं को भी पुरुषों की ही तरह पोर्न देखना पसंद होता है, लेकिन ज्यादातर महिलाएं रोमांस और भावनात्मक संबंध का अनुभव करना चाहती हैं। यही कराण है कि महिलाओं को पोर्न किताबें पढ़ना भी बेहद पसंद होता है। 50 शेड्स ऑफ अमेरिका में बहुत ज्यादा बिकने वाली किताब रही और इस पर बनी फिल्म को भी महिलाओं ने बेहद पसंद किया।

3.सीखने का माध्यम है

समाज की बंदिशों के चलते हम सेक्स को लेकर काफी दबी मानसिकता रखते हैं, ऐसे में महिलाओं व पुरुषों दोनों के लिए पोर्न सीख ने का एक अच्छा ड़रिया हो सकता है। यदि पोर्न कंटेट को सीखने के नज़रिये से देखें तो सेक्स की सुखमय गितविधियों में महारथ हासिल की जा सकती है। लेकिन आपको अपने आप पर नियंत्रण करना सीखना होगा, वरना ये नुकसानदायक भी हो सकता है।

4.पोर्न देखते समय क्या सोचते हैं पुरुष

एडल्ट कंटेट देखते समय हर आदमी उस अहसास को हकीकत में भी जीना चाहता है। बहुत से लोग तो अपने लव पार्टनर के साथ उन सीन्स को रिपीट करना चाहते हैं जो सेक्स और रोमांस का चरम सुख दे सकें। मूवी देख कर आप इसे भली भांति सीख सकते हैं। परन्तु यह जरूर ध्यान रखें, कि मूवी में दिखाया गया हर सीन वास्तविक नहीं है वरन एक्टिंग भी की गई है।