डॉक्टर्स का ऐसा काला सच जो आपको कोई नही बतायेगा , लगातार होते रहेंगे आप बीमार

आज के आधुनिक युग के डॉक्टर इतने खराब हो गये है की आपको पैसो के लिए कुछ भी बीमारी बता सकते है जिससे की वो आपसे पैसे एठ सके | जिसमे से सबसे ज्यादा बताई जाने वाली बीमारी है शुगर , यानि की मधुमेह रोग | आईये जानते है इन जानते है इन डॉक्टर्स की सच्चाई …..

पिछले कुछ आंकड़ो के हिसाब से 1997 से पहले Fasting Diabetes की limit 140 थी। फिर दवा कंपनियों ने डॉक्टर्स के साथ मिलकर Fasting Sugar की limit 126 कर दी।इससे World Population में 14% Diabetes रोग से पीड़ित लोग बढ़ गए। उसके बाद 2003 में medical Asso. ने फिर से Fasting Sugar की limit कम करके 100 कर दी। यानि फिर से कुल जनसंख्या के करीबन 70% लोग Diabetes माने जाने लगे।डॉक्टर से पूछने पर उनका तर्क होता है कि लोगो का खान पान बदला है ये बात कुछ हद तक सच है लेकिन इतना भी नही बदला कि इतनी ज्यादा संख्या में लोग इसके मरीज हो जाएँ गावों के लोग तो आज भी लगभग वही पुरानी जीवन शैली अपनाकर जी रहें हैं फिर भी शहरों से ज्यादा गावों में शुगर के मरीज हैं | Diabetes Ratio या limit को तय करने वाली कुछ Pharmaceutical कंपनियां थीं। जों अपना Business बढ़ाने के लिए यह सब कर रही हैं।

कंपनियों ने सिर्फ इतना ही नहीं किया अपितु इन्होंने अपने प्रयोगशालाओं में बनने वाले उपकरणों की सेन्स्टिविटी को इतना अधिक सेट कर रखा है कि जब तक रोगी लास्ट स्टेज पर ना पहुंचे तब तक इनकी रिपोर्ट में सब कुछ नार्मल ही रहता है । क्योंकि यदि रोगी को पता चल गया कि उसे 20 % शुगर है , या 20 % हार्ट ब्लोकेज है तो वह रसोईघर में रखी औषधियों से स्वयं को ठीक हो सकता है

Actually Diabetes कैसे Count करनी चाहिए ?

आप की अपनी उम्र में + 100 कर दे और आपकी सही शुगर जितनी की आपको हो तो नार्मल बात है यही एक सच्चाई है |

यदि आपकी उम्र 65 है तो आपका शुगर लेवल भोजन के बाद 165 होना चाहिए ।

यदि आपकी उम्र 75 है तो आपकी भोजन के बाद सामान्य शुगर लेवल 175 होना चाहिए ।

यदि ऐसा है तो आपको घबराने की विल्कुल जरूरत नहीं है आपकी शुगर सामान्य है ।

यह होता है उम्र के हिसाब से जैसे – जिसकी उम्र 80 वर्ष है उनकी भोजन के बाद सामान्य शुगर 180 होगी ।

साथ यह भी सच है कि,अगर आपका पाचन तंत्र अच्छा है। आपको कोई टेंशन नहीं है ।आप अच्छा खाना खाते हो,आप जंक फ़ूड , spicy , heavy oily food नहीं खाते ।आप प्रतिदिन योग या प्राणायाम करते हैं और आपका वजन आपकी लंबाई के अनुरूप लगभग बराबर है , तो आपको शुगर नहीं हो सकती है ।यह एक पूर्ण सत्य है। बस इन डॉक्टर्स के बजाय स्वयं पर भरोसा करे और सामान्य बिमारियों का इलाज घर पर ही करे |