देश के व्यापारियों ने निकाल लिया GST का तोड़ , जानिए किस तरह कर रहे है टैक्स बचाने का काम

देश में जब GST को लागु करने की बात होने लगी तो सब तरह एक टेंशन बना हुआ था, खासकर व्यापारियों को वे दिन रात यही सोचने में लगे हुए थे की GST से मुक्ति केसे पाए, इस मर्ज का इलाज कराने के लिए इधर उधर GST के जानकारों के पास जाने लगे लेकिन किसी को कुछ समझ नहीं आ रहा था. आखिरकार इंतजार की घड़ी खत्म हुई और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 जून को ठीक रात 12 बजे यानि 30 जून अब 1 जुलाई में बदल चूका था उसी समय संसद के हॉल से देश में GST को लागू कर दिया गया . जेसे ही GST लागु हुआ इसके जानकार इससे समझने लगे और लागु होने के कुछ ही दिन बाद इसका भी तोड़ निकाल लिया . आइये जानते है की किस तरह इन व्यापारियों ने GST का तोड़ निकाला है……

ET Now चैनल ने अपनी एक रिपोर्ट में खुलासा किया है कि ये व्यापारि किस तरह टैक्स बचाने के लिए काम कर रहे हैं.

ET NOW ने अपनी रिपोर्ट्स में बताया की किस तरह फ़ुटवेयर कंपनी और दुकानदारों ने GST का तोड़ निकाला है, आप को बता दे की GST के अनुसार 500 तक के फ़ुटवेयर पर 5 प्रतिशत GST लगेगा, वहीं इसके ऊपर GST की दर 18 प्रतिशत हो जाएगी.ऐसे में फ़ुटवेयर बेचने वाले दुकानदारों ने इनके अलग-अलग बिल बनाने शुरू किए हैं. अब अगर आप फ़ुटवेयर खरीदते हैं, तो दाएं और बाएं पैर, दोनों के फ़ुटवेयर का अलग-अलग बिल आपको मिलेगा.

इसी तरह कपड़े वाले भी इस मामले में पीछे नहीं है वो भी कस्टमर को हर हर चीज का अलग अलग बिल बना कर दे रहे है अगर आप पेन्ट शर्ट और टाई खरीदते है तो हो सकता है की बदले में आप को 3 बिल मिले. अभी तो देश में GST को लागु हुए 10 दिन हुए है और अभी से देश में ये हाल है तो…. आगे क्या होगा ये तो वक्त ही बतायेगा. 

 

Add a Comment