शुभ रात्रि शायरी Good Night Shayari Hindi

रात चाँदनी बनकर…

ये रात चाँदनी बनकर आँगन में आये,
ये तारे लोरी गा कर आपको सुनाएं,
आयें आपको इतने प्यारे सपने यार…
कि नींद में भी आप हलके से मुस्कुराएं।

आपके बिना रात…

जब भी आपके बिना रात होती हैं,
तब दीवारों से अक्सर बात होती हैं,
सन्नाटा पूछता हैं हमारा हाल हमसे,
तो आपके नाम से ही शुरुआत होती हैं।

उन्ही सपनो में…

इस कदर हम उनकी मोहब्बत में खो गए,
कि एक नज़र देखा और बस उन्ही के हो गए,
आँख खुली तो अँधेरा था देखा एक सपना था,
आँख बंद की और उन्ही सपनो में फिर खो गए।
शुभ रात्रि ।

कितनी जल्दी ये शाम आ गई,

गुड नाइट कहने की बात याद अा गई,
हम तो बैठे थे सितारों की महफिल में,
चांद को देखा तो आपकी याद आ गई।
शुभ रात्रि

सलामती की दुआ…

जैसे चाँद का काम है रात में रौशनी देना,
तारों का काम है सारी रात चमकते रहना,
दिल का काम है अपनों की याद में धड़कते रहना,
हमारा काम है आपकी सलामती की दुआ करते रहना।
। शुभ रात्रि ।

YOU MAY LIKE