मालिक की पत्नी को वश में करने के लिए जड़ी-बूटी के इस टोटके के लिए, अपनी ही बेटी के साथ

महाराष्ट्र के अमरावती जिले में एक बहुत ही शर्मनाक घटना घटी। खेत मजदूर ने अपने मालिक की समस्या को दूर करने के लिए अपनी बच्ची को जड़ी बूटी लाने जंगल भेजा और मौका पाकर दो आरोपियों ने बच्ची के साथ सामूहिक बलात्कार कर डाला। भाई के हाथ-पैर बांधकर, उसी के सामने 13 साल की नाबालिग लड़की के साथ दो लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया।

ये घटना परसोडा जंगल में घटी, इस मामले में फ्रेजरपुरा पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई गई है। इस घटना के पीछे का जुड़ा तथ्य इससे भी ज्यादा शर्मनाक है, पीड़ित बच्ची का पिता चांदुर रेलवे तहसील के खेत मालिक के यहां खेती का काम करता है, उस मालिक की पत्नी बार-बार घर छोड़कर चली जाती थी। मालिक अपने पत्नी को वश में करने के लिए पीड़ित बच्ची के पिता से सलाह मांगता।

पीड़ित बच्ची के पिता ने मालिक की पत्नी को वश में करने के लिए जंगल में मिलनेवाले जड़ी-बूटी खिलाने के लिए कहा। ये जड़ी बूटी किसी कुंवारी कन्या द्वारा ही मंगवाने की बात भी बताई। मालिक ने पीड़ित बच्ची के पिता के 13 साल की बच्ची को जंगल में भेजने के लिए विनती की। अपने मालिक की पत्नी को वापस घर में लाने के लिए और मालिक की समस्या को दूर करने के लिए शख्स ने अपनी 13 साल की बच्ची को जंगल में भेजा।

जिसके मुताबिक पीड़ित बच्ची के पिता ने अपने चाचा के बेटे के साथ अपनी बच्ची को जंगल में जड़ी बूटी लेने भेजा। बहन अपने भाई के साथ जंगल में जड़ी बूटी लेने गए थे, लेकिन दो अनजान व्यक्ति उनका पीछा कर रहे थे। दोनों को चाकू का डर दिखाकर पीड़ित बच्ची के चचेरे भाई के हाथ पैर बांध दिए और उसको बुरी तरह से पीटा।

उसके बाद दोनों अनजान व्यक्तियों ने भाई के सामने ही बच्ची के साथ सामूहिक बलात्कार किया। घटना के बाद दोनों आरोपी वहां से फरार हो गए। रात के अंधेरे में बच्ची को जंगल में जड़ी बूटी लेने भेजना पिता को काफी भारी पड़ा। इस सदमे से बच्ची को काफी धक्का लगा है। पिता की अंधश्रद्धा की बात मानकर बच्ची को काफी बड़ा खामिया भुगतना पड़ा।

 

Add a Comment