Facts : दुनिया के ये 18 अजीबो-गरीब तथ्य जानकर हैरान हो जाएंगे आप

0
3689

हम आपके सामने समय-समय पर रोचक तथ्य पेश करते रहते हैं, जिनसे आपको रोचक जानकारी मिलती रहे. ये तो आप जानते ही हैं कि दुनिया रोचक जानकारियों का भंडार है और इसके सारे रहस्य और तथ्य किसी के सामने नहीं आए हैं. लेकिन आज हम आपको कुछ रोचक तथ्य से रुबरू करा रहे हैं, तो आइए जानते हैं ये रोचक तथ्य-

did you know gajabdunia.com
did you know on blackboard gajabdunia.com

दुनिया के 18 रोचक तथ्य

1. प्रथम भारतीय डाक टिकट जुलाई 1854 में कलकत्ता की टकसाल में छापा गया था।

Loading...

2. क्या आपको पता है कि एक खट्टा शहद भी होता है जो ब्राजील के जंगलों में पाया जाता है।

3. सऊदी अरब ऐसा देश है, जहां एक भी नदी नहीं है।

4. ब्रांचों की बात करें तो दुनिया का सबसे बड़ा बैंक भारतीय स्टेट बैंक है।

5. क्या आपको पता है विश्व में कुल 212 देश हैं।

6. नकली सोना आयरन ऑक्साइड को कहा है।

7. बल्ब का फिलामेंट टंगस्टन धातु का होता है।

image gajabdunia.com
image gajabdunia.com

8. ‘ॐ जय जगदीश हरे’ की रचना पंडित श्रद्धानंत फिल्लोरी ने की थी।

9. रविवार की छुट्टी मनाने वालों क्या आप ये जानते हैं कि रविवार की छुट्टी साल 1843 से आरंभ हुई।

10. आपको शायद ये नहीं पता होगा कि जन्म से ही शरीर के सभी अंगों का विकास होता है पर आंखें कभी नहीं बढ़ती।

11. चॉकलेट कुत्तों को खिलाने से उनकी जान जा सकती है. क्योंकि चॉकलेट के अन्दर मौजूद थियोब्रोमाइन कुत्ते के दिल अौर पाचन तंत्र के लिए खतरनाक होता है।

12. दुनिया के सबसे बड़े पक्षी शुतुरमुर्ग की आंख उसके दिमाग से भी बड़ी होती है।

13. अंग्रेजी भाषा का अब तक का सबसे छोटा वाक्य है ‘आई एम’ यानी ‘I AM’. ये सबसे छोटा और पूर्ण वाक्य है।

14. नवजात शिशु के घूटने पर टोपी जन्म के समय मौजूद नहीं होती इसका विकास 2 से 6 साल की अवस्था तक होता है।

15. तितली अपने आस-पास की चीजों का स्वाद अपने पैरों से लेती हैं।

blue-yellow-butterfly gajabdunia.com
blue-yellow-butterfly gajabdunia.com

16. आप कितनी भी कोशिश कर लें लेकिन आंखें खोलकर कभी नहीं छींक सकते।

fact-4-liver-doctor gajabdunia.com
fact-4-liver-doctor gajabdunia.com

17. आपको बता दें कि पल समय की वास्तविक इकाई पल होती है। एक पल सेकेण्ड का 100वां हिस्सा होता है।

18. इतिहास का अब तक का सबसे छोटा युद्ध 1896 में लड़ा गया। जंजीबार और इंग्लैण्ड के बीच ये युद्ध लड़ा गया था, जिसमें जंजीबार ने 38 मिनट में ही आत्म समर्पण कर दिया था।

YOU MAY LIKE
Loading...