इस गांव के मकानों की छतों पर रखे है शिप, हवाईजहाज़, घोडा, गुलाब, कार, बस…

0
64
वैसे तो हमारा भारत कमाल का देश है और इसमें भी पंजाब के तो क्या कहने! लेकिन पंजाब में एक गांव है जो अपनी एक कमाल की बात के चलते फेमस हो रहा है.. और हो भी क्यों न भाई, क्या सही दिमाग लगाया है इन गांव वालों ने।


दरअसल यह कहानी है पंजाब के जालंधर शहर के एक गांव ‘उप्पलां’ की। इस गांव में अब लोगों की पहचान उनके घरों पर बनी पानी की टंकियों से होती है, हैं न कमाल की बात। अब आप सोच रहे होंगे कि पानी की टंकियों में ऐसी क्या विशेषता है तो हम आपको बता दें कि यहां के मकानों की छतों पर आम वाटर टैंक नहीं है, बल्कि यहां पर शिप, हवाईजहाज़, घोडा, गुलाब, कार, बस आदि अनेकों आकार की टंकियां हैं।


एनआरआईज़ ने शुरू की ये परम्परा

अब ये तो आप जानते ही हैं के गांव के अधिकतर लोग पैसा कमाने लिए विदेशों में रहते हैं और गांव में खास तौर पर एनआरआईज़ की कोठियों में ही छत पर इस तरह की टंकियां रखी हैं। अब कोठी पर रखी जाने वाली टंकियों से उसकी पहचानी की जा रही हैं। अब बताते हैं कि एनआरआईज़ का इससे क्या लेना देना…

दरअसल तरसेम सिंह उप्पल जब 70 साल पहले हांगकांग गए थे तो उन्होंने सफर शिप से किया था। अपने बेटों को अपनी पहली यात्रा के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा था कि हम भी अपने घर पर शिप बनवाएंगे। 1995 में यह शिप बनाई गई और यहीं से दौर शुरू हुआ इन अतरंगी टंकियों का।
तरह तरह की टंकियां

नामी परिवार मतलब कि जिनका गांव में सिक्का चलता है ऐसे परिवार अपने घरों पर तरह-तरह की टंकियां बनवा रहे हैं। कोई गुलाब का फूल बना खुशहाली का संकेत देता है तो कोई घोड़ा बनाकर रुआबदार परिवार का संदेश देता है। कोई शेर बनाकर अपनी बहादुरी ज़ाहिर करता है तो कोई बाज बनाकर अपनी पहचान को दमदार रूप से प्रस्तुत करता है।

बब्बर शेर वाली कोठी


एयर इंडिया वाली कोठी


बाज बहादुर वाली कोठी


बैल वाली कोठी

कमल वाली कोठी


Credit: Daily Bhashkar


Apart from storing water, roof-top water tanks here have become a status symbol. Water tanks are constructed to make a strong impression on other villagers. Village Upplan in Jalandhar boasts of many water tanks which catch one’s attention immediately.

YOU MAY LIKE
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here