जानवरों के संभोग करने के कुछ खतरनाक तरीके – दोनों में किसी एक की जान तक चली जाती है।

0
2537

इंसान हो या जानवर, हर किसी को अपनी पीढ़ी या प्रजाति आगे बढ़ाने के लिए साथी के साथ रिश्ता बनाने की जरूरत पड़ती ही है। लेकिन कुछ जानवरों की संभोग की प्रक्रिया ऐसी होती है कि सुन कर आप सिहर जाएंगे। दोनों में किसी एक की जान तक चली जाती है।

1. क्वोल (Quolls) :

क्वोल नाम का यह नर जानवर ज्यादा से ज्यादा मादा जानवर के साथ संभोग करने की कोशिश करता है। उनमें से भी जिसके साथ इसने पहले कभी नहीं किया होता, उसकी गर्दन अपने मुंह से दबोच कर घसीटते हुए ले जाता है और फिर संभोग करता है। ये वैसे तो तीन घंटों तक करते हैं लेकिन मन हो तो पूरा दिन भी लग जाता है। ऐसा इस लिए क्योंकि नर क्वोला के शरीर से एक बार में ज्यादा स्पर्म नहीं निकल पाते इसलिए उसे बार बार करने की जरूरत पड़ती है। इस दौरान नर क्वोला के अत्याचार सहते सहते मादा क्वाला मर भी जाती हैं।

2. Seal (सील) :

सील वैसे तो बहुत प्यारे दिखते हैं लेकिन इनके संभोग का तरीका उतना ही कंपा देने वाला है। नर सील संभोग करते वक्त मादा की खोपड़ी तक को अपने दांतों और जबड़ों में फंसा कर चूर चूर कर देते हैं। उनके लिए अच्छा रहता है कि जितना जल्दी बड़ी हो जाएं उतना मौत का खतरा कम हो जाता है।

3. बीटल (Seed Beetles) :

बीटल यानि मोगरी की संभोग प्रक्रिया में भी मादा को बहुत चोट आती है क्योंकि उनका लिंग बहुत नुकीला होता है जो मादा को चुभता है। लेकिन मादाएं फिर भी तैयार हो जाती हैं क्योंकि वे इतने गर्म मौसम में रहते हैं कि उन्हें इस तरह चीज की जरूरत होती है और संभोग के वक्त नर के शरीर से निकलने वाला तर पदार्थ उन्हें राहत पहुंचाता है।

4. मधुमक्खी (Bees) :

मधुमक्खियों में रानी मधुमक्खी संभोग करने से पहले अपनी सारी साथी मादा मधुमक्खियों को मार डालती है ताकि उसकी जगह कोई न ले सके। इसके बाद वह कई हजार नर मधुमक्खियों में से अपनी पसंद के मधुमक्खी चुनती है और उन सबके साथ संभोग करती है। इस दौरान उनका लिंग रानी मधुमक्खी के अंदर ही फट जाता है और उसके पास पूरी जिंदगी भर के लिए काफी स्पर्म जमा हो जाता है। वह एक दिन में 1500 अंडे देती है।

5. प्रेयिंग मैंटिस (Praying Mantis) :

टिड्डा जैसे दिखने वाले इस कीड़े को प्रेयिंग मैंटिस कहते हैं। संभोग के वक्त अक्सर मादा मैंटिस नर का सिर खा जाती है। कुछ मामलों में कुछ प्रजातियों में यह जरूरी होता है क्योंकि इससे नर को स्पर्म निकालने में आसानी होती है। जबकि कुछ में मादा सिर सिर्फ इसलिए खा जाती है क्योंकि उसे भूख लगी होती है।

6. खटमल (Bedbugs) :

नर खटमल मादा के शरीर में उन अंगों को ढूंढ कर संभोग करने की बजाए सीधा उसके पेट में छेद कर के अपना स्पर्म छोड़ कर चला जाता है। स्पर्म खुद मादा के शरीर में खून के जरिए ओवरी तक पहुंच जाता है।

7. फ्लैटवॉर्म (Flatworms) :

फ्लैटवॉर्म में संभोग के दौरान इस बात की लड़ाई होती है कि कौन पापा बनेगा और कौन मां बनने की जिम्मेदारी उठाएगा। इनका लिंग खंजर से कम नहीं होता और वे इसी से लड़ाई कर के एक दूसरे को पछाड़ने की कोशिश करते हैं। जो हार जाता है और जिसके शरीर में पहले लिंग घुस जाता है, उसे ही मां बनना पड़ता है और बच्चे के लिए भी उर्जा के जरूरी संसाधन जुटाने पड़ते हैं।

8. ततैया मकड़ि (Wasp Spiders) :

ततैया मकड़ियों के संभोग में नर के जननांग टूट कर मादा के शरीर के अंदर ही रह जाते हैं। ऐसा इसलिए ताकि नर के जीन बच्चों में आ जाएं। उसके अंग टूटते ही मादा उस पर हमला कर के उसे खा जाती है।
Source- oddee.com
YOU MAY LIKE
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here