लड़कों को ग्राहक बना कर जंगल में ले जाती थी, एक दिन की रेट 400 रूपये..एक की दिन कुछ ऐसा हुआ की…

बुरहानपुर में गुरुवार को पुलिस के हत्थे एक ऐसा गिरोह चढ़ा जो देह व्यापार की आड़ में युवकों से लूट और ठगी करता था। गिरोह को संचालित करने वाले पति-पत्नी अपने साथियों के साथ वारदात को अंजाम देते थे।

यहां पत्नी लड़कों को फंसाकर सुनसान जगह पर ले जाती थी और फिर लड़के के सामने कपड़े उतार देती थी। प्लान के अनुसार इसी दौरान पति अपने कुछ साथियों के साथ पहुंचकर लड़के को डराते थे और फिर लूटपाट करते थे।

पुलिस के अनुसार, लालबाग बड़ा चिंचाला निवासी रूबीना ने सादिक से लव मैरिज की थी। शादी से पहले रूबीना का असली नाम रेखा था। वह लंबे समय से देह व्यापार में लिप्त थी। वह शहर के कुछ चुनिंदा क्षेत्रों में सक्रिय रहती थी। ज्यादातर वह जय स्तंभ और जिला अस्पताल के आसपास युवकों फंसाने के लिए पहुंचती थी। वह यहां से गुजरने वाले लड़कों को इशारा करती थी और जैसे ही कोई उसके झांसे में आता चलते-चलते सौदा कर लेती।

सौदा तय होने के बाद रूबीना अपने पति सादिक को जगह के बारे में जानकारी दे देती थी। पति को कॉल करने के लिए वह राह चलते लोगों से मोबाइल मांगती थी। इसके बाद वह युवक को जंगल या फिर ऐसी जगहों पर लेकर जाती थी, जहां लोगों की आवाजाही कम हो। यहां वह लड़के के सामने अपने कपड़े उतार देती थी, लेकिन जैसे ही संबंध बनाने की बारी आती, उसका पति सादिक अपने कुछ मित्रों के साथ वहां पहुंच जाता था। इसके बाद वे युवक से मारपीट कर रुपए छीन लेते और फरार हो जाते थे।

लोग बदनामी के डर से पुलिस तक नहीं पहुंचते थे। पति-पत्नी दो साल से ये धंधा चला रहे थे। इस दौरान इन्होंने 50 से ज्यादा लोगों को लूटा। टीआई प्रदीप वाल्टर ने बताया पति-पत्नी के खिलाफ देह व्यापार, लूट और ठगी का केस दर्ज किया गया है।

शहर के एक युवक ने पिछने महीने कोतवाली थाने पर 13 हजार रुपए लूट की शिकायत की थी। पुलिस ने जांच की तो मामला कुछ उलझा हुआ समझ आया। इसके बाद युवक से कड़ी पूछताछ की गई तो उसने आपबीती सुनाई। भाई की कहानी सुन छोटे भाई ने इस गिरोह के पर्दाफाश की ठानी और पुलिस के साथ योजना बनाकर पूरे मामले का पर्दाफाश किया। इस पूरे खुलासे में एक जवान भी शामिल था।

गुरुवार दोपहर ग्राहक बनकर युवक जय स्तंभ के पास पहुंचा। यहां रूबीना को उसने 200 रुपए देने की बात कही, लेकिन उसने 300 रुपए की मांग की। रुबीना 200 से 500 तक में सौदा तय कर देती थी। यहां 200 में सौदा तय हुआ तो युवक ने जवान को इशारा कर दिया। लोहारमंडी गेट से दोनों हाईवे पर निकले। वहां से लोधीपुरा से ठाटर-बलड़ी की अोर पहुंचे। तभी उसका पति चार युवकों के साथ अचानक आ धमका। वे युवक से रुपए छीनने लगे, तभी मौके पर पुलिस जवान ने पहुंचकर उन्हें पकड़ लिया।

 

Add a Comment