Category: विक्रम -बैताल

बेताल पच्चीसी – अधिक साहसी कौन ? विक्रम – बेताल की सत्रहवीं कहानी Who is more adventurous? Vikram – Betal Seventh Story In Hindi

चन्द्रशेखर नगर में रत्नदत्त नाम का एक सेठ रहता था। उसके एक लड़की थी। उसका नाम था उन्मादिनी। जब वह बड़ी हुई तो रत्नदत्त ने राजा के पास जाकर कहा कि आप चाहें तो उससे ब्याह कर लीजिए। राजा ने तीन...

बेताल पच्चीसी – माँ-बेटी के बच्चों में क्या रिश्ता हुआ? विक्रम -बेताल की चौबीसवीं कहानी! What is the relationship between mother and daughter’s children? Vikram-Betal Twenty-fourth story in hindi

किसी नगर में मांडलिक नाम का राजा राज करता था। उसकी पत्नी का नाम चडवती था। वह मालव देश के राजा की लड़की थी। उसके लावण्यवती नाम की एक कन्या थी। जब वह विवाह के योग्य हुई तो राजा के भाई-बन्धुओं...

बेताल पच्चीसी – योगी पहले क्यों रोया, फिर क्यों हँसा? विक्रम – बेताल की तेईसवीं कहानी Why did the yogi cry first, then why laugh? Vikram-Betal Twenty three story in hindi

कलिंग देश में शोभावती नाम का एक नगर है। उसमें राजा प्रद्युम्न राज करता था। उसी नगरी में एक ब्राह्मण रहता था, जिसके देवसोम नाम का बड़ा ही योग्य पुत्र था। जब देवसोम सोलह बरस का हुआ और सारी विद्याएँ सीख...

बेताल पच्चीसी – शेर बनाने का अपराध किसने किया? विक्रम -बेताल की बाईसवीं कहानी Who committed the crime of inventing the couplet? Vikram-Betal Twenty-fifth story in hindi

कुसुमपुर नगर में एक राजा राज्य करता था। उसके नगर में एक ब्राह्मण था, जिसके चार बेटे थे। लड़कों के सयाने होने पर ब्राह्मण मर गया और ब्राह्मणी उसके साथ सती हो गयी। उनके रिश्तेदारों ने उनका धन छीन लिया। वे...

बेताल पच्चीसी – सबसे ज्यादा प्रेम में अंधा कौन था? विक्रम – बेताल की इक्कीसवीं कहानी Who was the most blind person in love? Vikram -Betal twenty-first story in hindi

विशाला नाम की नगरी में पदमनाभ नाम का राजा राज करता था। उसी नगर में अर्थदत्त नाम का एक साहूकार रहता था। अर्थदत्त के अनंगमंजरी नाम की एक सुन्दर कन्या थी। उसका विवाह साहूकार ने एक धनी साहूकार के पुत्र मणिवर्मा...

बेताल पच्चीसी – बालक क्यों हँसा? विक्रम -बेताल की बीसवीं कहानी!Why laugh at the child? Vikram-Betal’s twentieth story in hindi

चित्रकूट नगर में एक राजा रहता था। एक दिन वह शिकार खेलने जंगल में गया। घूमते-घूमते वह रास्ता भूल गया और अकेला रह गया। थक कर वह एक पेड़ की छाया में लेटा कि उसे एक ऋषि-कन्या दिखाई दी। उसे देखकर...

बेताल पच्चीसी – पिण्ड दान का अधिकारी कौन ? विक्रम -बेताल की उन्नीसवीं कहानी Who is the donation officer? Vikram -Betal’s nineteenth story in hindi

वक्रोलक नामक नगर में सूर्यप्रभ नाम का राजा राज करता था। उसके कोई सन्तान न थी। उसी समय में एक दूसरी नगरी में धनपाल नाम का एक साहूकार रहता था। उसकी स्त्री का नाम हिरण्यवती था और उसके धनवती नाम की...

बेताल पच्चीसी – विद्या क्यों नष्ट हो गयी? विक्रम -बेताल की अठारहवीं कहानी Why the Vidya was destroyed? Vikram-Betal’s eighteenth story in hindi

उज्जैन नगरी में महासेन नाम का राजा राज करता था। उसके राज्य में वासुदेव शर्मा नाम का एक ब्राह्मण रहता था, जिसके गुणाकर नाम का बेटा था। गुणाकर बड़ा जुआरी था। वह अपने पिता का सारा धन जुए में हार गया।...

बेताल पच्चीसी – सबसे बड़ा काम किसने किया?विक्रम – बेताल की सोलहवीं कहानी Who has done the greatest work? Vikram -Betal Sixteenth Story in hindi

हिमाचल पर्वत पर गंधर्वों का एक नगर था, जिसमें जीमूतकेतु नामक राजा राज करता था। उसके एक लड़का था, जिसका नाम जीमूतवाहन था। बाप-बेटे दोनों भले थे। धर्म-कर्म मे लगे रहते थे। इससे प्रजा के लोग बहुत स्वच्छन्द हो गये और...

बेताल पच्चीसी – क्या चोरी की गयी चीज़ पर चोर का अधिकार होता है: विक्रम -बेताल की पन्द्रहवीं कहानी,Whether thieves have the right to steal things: Vikram-Betal’s fifteenth story in hindi

नेपाल देश में शिवपुरी नामक नगर मे यशकेतु नामक राजा राज करता था। उसके चन्द्रप्रभा नाम की रानी और शशिप्रभा नाम की लड़की थी। जब राजकुमारी बड़ी हुई तो एक दिन वसन्त उत्सव देखने बाग़ में गयी। वहाँ एक ब्राह्मण का...