Category: पंचतंत्र

पंचतंत्र की कहानी -मूर्ख बातूनी कछुआ – मित्रभेद The Turtle that fell off the Stick Panchatantra Hindi Story

एक तालाब में कम्बुग्रीव नामक एक कछुआ रहता था। उसी तलाब में दो हंस तैरने के लिए उतरते थे। हंस बहुत हंसमुख और मिलनसार थे। कछुए और उनमें दोस्ती होते देर न लगी। हंसो को कछुए का धीमे-धीमे चलना और उसका...

पंचतंत्र की कहानी -शेर, ऊंट, सियार और कौवा -मित्रभेद The Lion, Camel, Jackal And Crow Panchatantra Hindi Story

किसी वन में मदोत्कट नाम का सिंह निवास करता था। बाघ, कौआ और सियार, ये तीन उसके नौकर थे। एक दिन उन्होंने एक ऐसे उंट को देखा जो अपने गिरोह से भटक कर उनकी ओर आ गया था। उसको देखकर सिंह...

पंचतंत्र की कहानी – सांप की सवारी करने वाले मेढकों की कथा Frogs That Rode A Snake Panchatantra Hindi Story

किसी पर्वत प्रदेश में मन्दविष नाम का एक वृद्ध सर्प रहा करता था। एक दिन वह विचार करने लगा कि ऐसा क्या उपाय हो सकता है, जिससे बिना परिश्रम किए ही उसकी आजीविका चलती रहे। उसके मन में तब एक विचार...

पंचतंत्र की कहानी – ब्राह्मणी और तिल के बीज Brahmani And Sesame Seeds Panchatantra Hindi Story

एक बार की बात है एक निर्धन ब्राह्मण परिवार रहता था, एक समय उनके यहाँ कुछ अतिथि आये, घर में खाने पीने का सारा सामान ख़त्म हो चुका था, इसी बात को लेकर ब्राह्मण और ब्राह्मण-पत्‍नी में यह बातचीत हो रही...

पंचतंत्र की कहानी -गौरैया और हाथी – मित्रभेद The Elephant and the Sparrow Panchatantra Hindi Story

किसी पेड़ पर एक गौरैया अपने पति के साथ रहती थी। वह अपने घोंसले में अंडों से चूजों के निकलने का बेसब्री से इंतज़ार कर रही थी। एक दिन की बात है गौरैया अपने अंडों को से रही थी और उसका...

पंचतंत्र की कहानी -तीन मछलियां- मित्रभेद Tale of the Three Fishes Panchatantra Hindi Story

एक नदी के किनारे उसी नदी से जुडा एक बडा जलाशय था। जलाशय में पानी गहरा होता हैं, इसलिए उसमें काई तथा मछलियों का प्रिय भोजन जलीय सूक्ष्म पौधे उगते हैं। ऐसे स्थान मछलियों को बहुत रास आते हैं। उस जलाशय...

पंचतंत्र की कहानी – नीले सियार की कहानी – मित्रभेद The Story of the Blue Jackal Panchatantra Hindi Story

एक बार की बात हैं कि एक सियार जंगल में एक पुराने पेड के नीचे खडा था। पूरा पेड हवा के तेज झोंके से गिर पडा। सियार उसकी चपेट में आ गया और बुरी तरह घायल हो गया। वह किसी तरह...

पंचतंत्र की कहानी -चतुर खरगोश और शेर – मित्रभेद The Cunning Hare and the Lion Panchatantra Hindi Story

किसी घने वन में एक बहुत बड़ा शेर रहता था। वह रोज शिकार पर निकलता और एक ही नहीं, दो नहीं कई-कई जानवरों का काम तमाम देता। जंगल के जानवर डरने लगे कि अगर शेर इसी तरह शिकार करता रहा तो...

पंचतंत्र की कहानी -बगुला भगत और केकड़ा ~ मित्रभेद The Crane And The Crab PanchatantraHindi Story

एक वन प्रदेश में एक बहुत बडा तालाब था। हर प्रकार के जीवों के लिए उसमें भोजन सामग्री होने के कारण वहां नाना प्रकार के जीव, पक्षी, मछलियां, कछुए और केकडे आदि वास करते थे। पास में ही बगुला रहता था,...

पंचतंत्र की कहानी -दुष्ट सर्प और कौवे ~ मित्रभेद The Cobra and the Crows Panchatantra Hindi Story

एक जंगल में एक बहुत पुराना बरगद का पेड था। उस पेड पर घोंसला बनाकर एक कौआ-कव्वी का जोडा रहता था। उसी पेड के खोखले तने में कहीं से आकर एक दुष्ट सर्प रहने लगा। हर वर्ष मौसम आने पर कव्वी...