यंहा 5 से 8 हजार रूपये खर्च करने पड़ते हैं बैलगाड़ी में सफ़र करने के

0
114

हम सब बैलगाड़ी तो जानते ही हैं, जो अकसर लोग गांव में सफ़र करने के लिए इस्तेमाल करते हैं. अगर मैं आपसे पूछूं कि इसमें सफ़र करने में कितने पैसे लगते होंगे, तो आप सबका जवाब अलग होगा. लेकिन कोई भी 100 रुपये से ज़्यादा में इसका सफ़र नहीं सोच सकता.

 


मध्यप्रदेश के गांव में बैलगाड़ी का सफ़र आपको काफ़ी महंगा पड़ सकता है. काफ़ी का मतलब यहां सच में काफ़ी है. रतलाम से 6 किलोमीटर दूर बने एक जैन मंदिर तक के सफ़र की कीमत आपको 5 से 8 हज़ार रुपये तक चुकानी पड़ेगी. जी हां ये सच है. आपको तब और हैरानी होगी जब हम बताएंगे की इससे कम पैसों में आप दिल्ली से इंदौर तक का सफ़र प्लेन से कर सकते हैं.

————-
 
यह भी पढ़े : ये तस्वीर बताती हैं कि कभी-कभी खेल के मैदान में कुछ और भी दिख जाता है
————-
 

5 से 8 हजार रूपये आपको तब खर्च करने होंगे अगर एक बैलगाड़ी में एक ही परिवार बैठा हो. अगर दो परिवारों ने एक बैलगाड़ी शेयर की तो इसकी कीमत आपको 12 से 14 हज़ार रुपये चुकानी पड़ेगी.
ऐसा नहीं है कि पूरे साल इस जगह की किमत इतनी ही रहती है. दरअसर हर साल 9 जनवरी को इस मंदिर के बाहर एक मेला लगता है जिसे देखने दूर-दूर से लोग आते हैं. लेकिन रास्ते की खस्ता हालत के कारण वहां तक पहुंचने का सिर्फ़ बैलगाड़ी ही सहारा रह जाता है. ऐसे में बालगाड़ी वाले इस छोटे से सफ़र की मोटी रक़म एठते हैं.

————-
————-

इन बैलगाड़ियों को चलाने वाले आस-पास के गांव वाले ही होते हैं, जो साल के एक दिन अच्छा खासा पैसा कमा लेते हैं. क्यों क्या सोच रहे हैं अगले साल के लिए बैलगाड़ी खरीद कर चलाने की?

First Published by:hindustantimes
YOU MAY LIKE
Loading...