इस रेलवे स्‍टेशन पर ट्रेन का गेट एक राज्य में खुलता है तो दूसरा दुसरे राज्य में, जानिए इस रेलवे स्टेशन के बारे में

आप ने रेल गाड़ी में तो कई बार सफर किया होगा, सफर नहीं भी किया है तो भी रेलवे स्टेशन तो जरुर देखा होगा । लेकिन कभी आप ने ऐसे रेलवे स्टेशन के बारे में सुना है की जिसका एक गेट एक राज्य में खुलता है तो दूसरा गेट दुसरे राज्य में । आप सोच रहे होंगे की ये क्या बकवास है, लेकिन आप को ये जानकर हैरानी होगी की एक ऐसा रेलवे स्टेशन भी है जहा ट्रेन के गेट दो अलग अलग राज्यों में खुलते है, आइये आज आप को इस अनोखे रेलवे स्टेशन की सेर करवाते है……..

बॉर्डर पर रेलवे स्टेशन

ये अनोखा रेलवे स्‍टेशन भवानी मंडी रेलवे स्टेशन है, जो राजस्थान और मध्यप्रदेश दोनों ही राज्‍यों के अंतर्गत आता है। दरअसल इस रेलवे स्टेशन के एक छोर पर राजस्थान का बोर्ड लगा है और दूसरे छोर पर मध्य प्रदेश राज्‍य का बोर्ड लगा है। क्यों की ये राजस्थान और मध्यप्रदेश दोनों ही राज्यों के बॉर्डर पर बना हुआ है, जहा एक छोर से मध्यप्रदेश की सीमा शुरू होती है वही दुसरे छोर पर राजस्थान की सीमा खत्म होती है ।

इस रेलवे स्‍टेशन की खास बात तो यहां का बुकिंग काउंटर मध्य प्रदेश के मंदसौर ज‍िले में है तो स्टेशन में एंट्री का रास्ता और वेटिंग रूम, राजस्थान के झालावाड़ ज‍िले में है। इतना ही नहीं एक और मजेदार बात तो यह है कि‍ यहां पर ट‍िकट बांटने वाला मध्‍यप्रदेश में बैठता है और ट‍िकट लेने के ल‍िए लोग राजस्‍थान में खड़े होते हैं। इस रेलवे स्टेशन से करीबन 350 से अध‍िक स्टेशन सीधे जुड़े हुए हैं। यहा पर हर रोज करीब 8 से 10 हजार यात्रि‍यों का आगमन होता है।

लोग लेते है ऐसे चुटकी

भवानी मंडी रेलवे स्टेशन दो राज्यों के बॉर्डर पर पड़ने की वजह से यहां पर आने वाले यात्री भी इस पर खूब चुटकी लेते हैं। अक्‍सर यहां पर यात्री आपस में ही मजे लेते हैं क‍ि हम उतरे तो मध्‍यप्रदेश में थे और पानी पीने राजस्‍थान में गए थे। यहां की प्रशासन‍िक व्‍यवस्‍था भी काफी मजेदार है। रेलवे स्‍टेशन पर ज‍िस राज्‍य की सीमा में कोई घटना होती है तो उसी राज्‍य की पुलि‍स उस मामले को देखती है।

YOU MAY LIKE