वीडियो: मौत के तांडव के बीच एक पत्रकार अपनी जान बचाने के लिए लोगों से भीख मांग रहा था लेकिन देखिये क्या हुआ !

25 अगस्त को जब हरियाणा जल रहा था तो राजनीति के बड़े नेता ये सोचने में व्यस्त थे कि आखिर सपोर्ट किसका किया जाये कानून का या फिर राम रहीम का जिसकी वजह से उनकी राजनीति चलती है. माहौल का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि लोगों ने घरों में घुसकर लूटपाट की और जो भी मिला उसे नुकसान पहुँचाया. हालत बस यही नही है इससे भी आगे की तस्वीर ये है कि मीडिया को खासकर टारगेट किया गया और पत्रकारों को हरियाणा में शरण तक नही मिली कि अपनी जान बचा सकें.

आपको बता दें कि राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के बाद राम रहीम के समर्थक इस तरह बेकाबू हो गये कि जैसे वो इस देश का हिस्सा ही नही थे. ये सब ऐसे हो रहा था कि जैसे पहले से ही सुनियोजित हो कि अगर बाबा को जेल हुई तो क्या करना है क्या नही! इस बीच एक ऐसी खबर सामने आयी है जो मीडिया से जुड़ी हुई.

मीडिया ख़बरों की माने तो कहा जा रहा है कि जब उपद्रवी अपनी पूरी ताकत से अपना ताण्डवी खेल दिखा रहे थे तो वहां उन्हें रोकने वाली पुलिस भी हताश नजर आई और भाग खड़ी हुई. जब उपद्रवियों को कुछ नही मिला तो उन्होंने मीडिया को निशाना बनाते हुए उन पर भी हमला कर दिया. बाबा के गुंडों से अपनी जान बचाने के लिए जब पत्रकार हरियाणा के स्थानीय लोगों के घरों में घुसकर अपनी जान बचाने की कोशिश करने लगा तो बेहद अजीब नजारा देखने को मिला. इस वीडियो को देखकर आप आसानी से समझ सकते हैं कि इस मामले की रिपोर्टिंग कर रहे मीडियाकर्मियों पर क्या बीत रही थी उस समय.

https://youtu.be/BYFSvnPfUtE

बता दें कि पत्रकारों ने जब अपनी जान बचाने के लिए लोगों के घरों में छिपने की कोशिश की तो लोगों ने उनकी पहचान पूछा और जब उन्होंने कहा कि वो पत्रकार हैं, तो उन्होंने घर में जगह देने से मना कर दिया और दरवाजा बंद कर दिया.