विडियो देखे : पॉर्न फिल्मों के वो 8 सीन जो आपको नहीं दिखाए जाते हैं, ये सीन देख कर आप के पसीने छुट जायेंगे

हॉट, कुवारी, हसीन और खिल-खिलाती लड़कियों को अपने स्क्रीन पर सेक्स करते देखना जहाँ बहुत से लोगों का दिल खुश कर देता है तो वही कुछ लोगों को ये सब देखने की आदत बन जाती हैl इसमें भी कोई दोराय नहीं है कि लोग बड़ी जहानत से पॉर्न देखते हैं, बाथरूम जाते हैं और लौटकर आने के बाद स्क्रीन बंद कर देते हैंl कुछ घंटों का सुकून ही सही लेकिन, स्क्रीन पर राजी-खुशी सेक्स करने वाली इन लड़कियों की असल हालत न तो लोग जानते हैं और शायद न ही जानना चाहते हैंl

हम आपको बता दे कि कुछ लोग पॉर्न स्टार को देखकर कहते होगें कि यह लोग कैसे सबके साथ यह काम कर लेते है। इनको शर्म नही आती है।लेकिन हम आपको बता दे कि दुनिया के जितने भी काम है सभी कामों से सबसे कठिन माना जाता है पॉर्न स्टार बनना।जैसा हम लोग होते है वैसे ही पॉर्न स्टार होते है। उनके अन्दर कोई अनोखी शक्ति नही होती जो कि वह घंटो-घंटो तक सेक्स कर लेते है। इसके पीछे का कारण जानकर चोंक जांएेगे आप।

loading…

आपको विश्वास नही होगा कि इन पॉर्न फिल्मों की शूंटिग कई-कई घंटों तक चलती है।बिना कुछ खाये पिए इनकों लगातार घंटो तक पॉर्न सीन सूट करना होता है। डायरेक्टर सेमूर बट्स के अनुसार मूवी की शूंटिग के दौरान सभी लोग होते है कैमरा मैन, मेकअप मेन से लेकर कम से कम दो दर्जन लोगों के सामने यौन क्रिया करनी होती है जिसके कारण वह पूरे एक्ट के दौरान शर्म से झूझ रहें होते है।

आम लोगों की तरह भी पॉर्न स्टार को भी ऐसी समस्यांए होती है जैसे अगर उसको किसी फीमेल पॉर्न स्टार के साथ एक्ट करना हो और यदि वह उसके प्रति आकर्षित ना हो तो ऐसे में उसे सेक्स करने में काफी परेशानी होती है। तीन चार घंटे लगातार शूंटिग करने के दौरान उनके प्राइवेट पार्ट छिल तक जाते है। यही नही बल्कि ठंड़ा मौसम हो या गर्म मौसम उनको नीचे फर्श पर लेटकर एक्ट करना होता है।

इन फिल्मों के शूंटिग के दौरान किसी भी प्रकार की दवाईयों का उपयोग नही करना होता है।कुछ फिल्में तो ऐसी भी है जिनमें कान्डोम तक का यूज नही किया जाता है।इसी वजह से कुछ पॉर्न स्टार के एचआईवी टेस्ट पॉजिटिव आते हैं.यदि किसी पॉर्न स्टार को कोई बीमारी हो या फीमेल स्टार को पीरियड हो तो भी उनको ऐसे में घंटों तक पोज करने होते है जिसमे वह कंफर्टेबल नहीं हैं। चाहे घर में कोई परेशानी हो ,या संडे को छुट्टी के दिन भी उनको यह काम लगातार करना होता है।

आपको बता दे कि यदि कोई पॉर्न स्टार बनने के लिए इस इंडस्ट्री में आता है ।तो उनका ऑडिशन भी बहुत कठिन होता है।क्योंकि इनको सबके सामने बिना किसी लड़की के 10- 20 बार मास्टरबेट करना होता है। उस दौरान कोई पॉर्न फिल्म भी नही दिखाई जाती है। स्क्रीन टेस्ट के दौरान उनको अपनी सेक्स क्लीप भी साथ लानी होती। लेकिन इस खबर को पढने के बाद ऐसा लगता है कि आपको इन पॉर्न स्टार के लिए दिल में सम्मान जगेगा। नीचे दिए गये 2 वीडियो में देखें इनके साथ क्या-क्या होता है।..