अगर आपका भी हो जाता है सुबह सुबह खड़ा तो जानिए इसके पीछे की वजह , कही ये वाली बीमारी तो नही

21511
Loading...

जितने भी पुरुष है वह इस बात से भली भाति परिचित है की सुबह सुबह क्या होता है | इसी के कारण सुबह एक दम से किसी के सामने जा भी नही सकते है थोड़ी देर और रजाई में रहना पड़ता है | लगभग सभी पुरुषो को सुबह में इरेक्शन होता है | यह कोई समस्या नही है यह एक आम प्राकृतिक प्रक्रिया है जो सभी पुरुषो के साथ होती है|

1.मॉर्निंग वुड~
इसे लोकल भाषा में बिना बुलाया मेहमान भी कहते हैं जिससे खुद पुरुष भी परेशान रहते हैं और ये जल्दी सामान्य भी नहीं होता। सेक्स करने के बावजूद भी नहीं। जबकि सुबह की उत्तेजना में सेक्स की भावना बिल्कुल नहीं होती फिर भी ये सेक्स के दौरान होने वाली उत्तेजना से कहीं अधिक सख्त एवं प्रभावशाली होता है। इस कारण इसे मनोवैज्ञानिक ‘मॉर्निंग वुड’ भी कहते हैं। मनोवैज्ञानिक कहते हैं कि इस अवस्था में किया गया सेक्स काफी हद तक भावना विहीन होता है।

सुबह सुबह क्यों हो जाता है इरेक्शन ,गज़ब दुनिया
सुबह सुबह क्यों हो जाता है इरेक्शन ,गज़ब दुनिया

2.मस्तिष्क की सक्रियता होती है आरईएम~
पुरुषों को आरईएम से संबंधित इरेक्शन होना एक आम बात है। इस तरह का इरेक्शन दिमाग के उस हिस्से के सक्रिय होने के कारण होता है जो सेक्सुअल इरेक्शन के दौरान निष्क्रिय रहता है। मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण के तौर पर दोनों में केवल इरेक्शन होना ही समान, बाकि ये दोनों एक-दूसरे से काफी अलग हैं। जबकि महिला पार्टनर इस तरह का इरेक्शन देखती है तो ये सोच कर दुखी हो जाती है कि पार्टनर को रात में पूरा यौन सुख हासिल नहीं हुआ इसलिए सुबह इरेक्शन हो गया है।

सुबह सुबह क्यों हो जाता है इरेक्शन ,गज़ब दुनिया
सुबह सुबह क्यों हो जाता है इरेक्शन ,गज़ब दुनिया
Loading...

3.नाइट्रिक ऑक्साइड~
एक अध्ययन के अनुसार जब कुछ कोशिकाएं नाइट्रिक ऑक्साइड छोडती हैं तो शरीर के इस हिस्से तक बल्ड सर्कुलेशन बढ़ जाता है और लिंग के खड़े होने का कारण बनता है। ऐसे में ब्लड सर्कुलेसन को सामान्य होने में समय लगता है जिस कारण ये काफी देर तक रहता है।

सुबह सुबह क्यों हो जाता है इरेक्शन ,गज़ब दुनिया
सुबह सुबह क्यों हो जाता है इरेक्शन ,गज़ब दुनिया

4.सेक्स भावना~
कई बार ये सेक्स भावना के कारण भी होता है। जब कोई पुरुष सपने में कोई कामुक सपना देखता है या उसके दिमाग में पिछले कई दिनों से सेक्स की भावना को लेकर उथल-पुथल चल रही होती है तो इसका परिणाम सुबह-सुबह उत्तेजना के रुप में मिलता है। लोग कहते हैं कि ऐसा ब्लेडर खाली ना होने के कारण होता है। लेकिन ऐसा कुछ नहीं है। कई पुरुषों को ब्लेडर के फुल होने के बाद भी लिंग में उत्तेजना महसूस नहीं होती। ये केवल सेक्स की भावना के कारण होता है खासकर तब जब वो सेक्स का आनंद लेने के लिए बेकरार हो। और ये कई रिसर्च में प्रमाणित भी हुआ है कि पुरुषों को सुबह-सुबह सेक्स करना काफी पसंद भी होता है।

सुबह सुबह क्यों हो जाता है इरेक्शन ,गज़ब दुनिया
सुबह सुबह क्यों हो जाता है इरेक्शन ,गज़ब दुनिया
YOU MAY LIKE
Loading...