आखिर क्यों बनायीं जाती है पेड़ो पर लाल-सफ़ेद पट्टियाँ ,जानिए इसके पीछे का सच ….

929
Loading...

हर सफ़र का अपना मज़ा होता है और हर एक व्यक्ति सफर करता है और वो कहते भी है ना की ‘जिन्दगी एक सफ़र है सुहाना’ | ऐसे ही आपने भी कितने ही हसींन सफ़र तय किये होने और इस पर जाते हुए आपने सड़क के किनारे लगे पेड़ो पर कुछ रंगीन पट्टियां भी देखी होगी जोकि लाल और सफ़ेद रंग की रही होगी लेकिन क्या कभी आपने यह सोचा है की इन रंगीन पट्टियों का क्या मतलब है ? नही तो आईये जानते है इसके बारे में ……

क्यों होती है पेड़ो पर लाल और सफ़ेद पट्टियाँ ,गज़ब दुनिया
क्यों होती है पेड़ो पर लाल और सफ़ेद पट्टियाँ ,गज़ब दुनिया

क्या है लाल और सफ़ेद रंग की पट्टियों का रहस्य ~

1.पेड़ों के ऊपर पेंट करके उनमें आई दरारों को भरा जाता है, जिससे पेड़ की लाइफ बढ़ जाती है। कई बार ऐसा भी होता है कि कीड़े मकोड़े पेड़ के तने में अपना घर बना लेते हैं। इससे पेड़ के तने के टूटने की गुंजाइश कम हो जाती है।

Loading...

2.वहीं दूसरी ओर यदि किसी पेड़ का कोई तना टूटने वाला होता है तो उस तने पर भी पेंट कर दिया जाता है। इस प्रकार से पेड़ के तने को हाईलाइट करके दिखाया जाता है, ताकि उसका ख्याल आगे रखा जा सके।

क्यों होती है पेड़ो पर लाल और सफ़ेद पट्टियाँ ,गज़ब दुनिया
क्यों होती है पेड़ो पर लाल और सफ़ेद पट्टियाँ ,गज़ब दुनिया

3.नए पेड़ को लगाने से ज्यादा कीमती पुराने पेड़ों का जीवन बचाना होता है, इसलिए पेंट कर पुराने पेड़ों के जीवन को बचाया जाता है।

4.अपने देश में पेड़ों पर पेंट करने का कार्य वन विभाग ही करता है, फिर चाहें पेड़ वन में हों या शहरी इलाके में। इस कार्य के लिए वन विभाग क्षेत्रवार अपनी टीमों को बांट कर यह कार्य संपन्न करता है।

5.पेड़ पर पेंट करने से जहां पेड़ की आयु बढ़ती है, वहीं पेड़ को काटे जाने से भी सुरक्षा होती है क्योंकि पेंटेड पेड़ इस बात की निशानी होते हैं कि वे वन विभाग की नजर में है। इस प्रकार से पेड़ की भी सुरक्षा होती है।

YOU MAY LIKE
Loading...