घर पर रोज आना जाना लगा रहता था भांजे का, एक दिन मामी ने कहा-मामा बाहर हैं रात को यहीं रुकना और उसके बाद रात को…

MP में एक मामी और भांजे ने जंगल में जाकर आत्महत्या कर ली। घर से 2 दिन पहले गायब हुए मामी और भानजे के शव खेत में पेड़ पर फांसी के फंदे पर लटके मिले।

गोहद पुलिस मृतक मामी और भानजे के बीच प्रेम संबंध बता रही है, जबकि मृतक महिला के पति का कहना है दोनों के बीच क्या संबंध थे इसकी जानकारी उन्हें या परिजन को नहीं थी। पुलिस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है।

सोमवार सुबह गांव के बाहर बदन सिंह के खेत में पेड़ पर चरवाहे ने गीता और हरज्ञान के शव फांसी पर लटके देखे। चरवाहे ने गांव में सूचना दी। दोनों के परिजन पहुंचे तो देखा कि एक ही साड़ी को पेड़ पर लटकाकर गीता और हरज्ञान के गले में फंदे लगे थे, जिससे दोनों फांसी पर लटका थे।

सुबह गीता शौच के लिए जाती तो करीब 2 घंटे बाद वापस लौटती थी। गीता 3 बेटों की मां है। 2005 में शादी हुई थी। हरज्ञान अविवाहित है और मालनपुर फैक्टरी में मजदूरी करता है।

Add a Comment