15 लड़कों ने इस मोटी लड़की के साथ सम्बन्ध बनाने की कोशिश लेकिन पासा पलट गया और पड़ गए लेने के देने

15 लड़कों के खिलाफ रेप और सेक्शुअल असॉल्ट का झूठा आरोप लगाने वाली एक लड़की को कोर्ट ने 10 साल जेल की सजा सुनाई है।

ब्रिटेन की साउथवार्क डिस्ट्रिक्ट में रहने वाली 25 साल की जेमा बील ने 2010 से 2013 के बीच अलग-अलग घटनाओं में 15 लड़कों के खिलाफ ये झूठे मामले दर्ज करवाए थे। जांच में सामने आया कि बील ने खुद को सुर्खियों में बनाए रहने के लिए इन लड़कों को टार्गेट किया। इसके अलावा जेमा खुद को लेस्बियन बताकर तीन साल तक पुलिस को बेवकूफ बनाती रही।

जेमा ने सबसे पहले 2010 में महद कासिम नाम के एक लड़के पर रेप का आरोप लगाया था। जेमा ने पुलिस को बयान दिया था कि कासिम ने लिफ्ट देने के बहाने कार में उनके साथ रेप किया था। इस झूठे मामले में कासिम को कोर्ट ने दोषी मानते हुए 7 साल की जेल की सजा सुना दी थी। इसके साथ ही जेमा को 11 हजार पाउंड का मुआवजा भी दिया गया था।

इसके बाद जेमा ने 2012 में नोआम शहजाद नाम के एक लड़के पर रेप का आरोप लगाया था। नोआम जमानत मिलने के बाद ही देश छोड़कर भाग निकला था। इसी तरह चार अलग-अलग मामलों में 2010 से 2013 के बीच जेमा ने इसी तरह 15 लड़कों पर रेप और सेक्शुअल असॉल्ट के मामले दर्ज करा दिए थे।

दिसंबर 2013 में जेमा की एक्स लेस्बियन फ्रेंड अनुस्का ने पुलिस को इन झूठे रेप केस की जानकारी दी थी। अनुस्का के बयान के बाद पुलिस ने सभी मामलों की नए सिरे से जांच शुरू की और कई मामलों में गड़बड़ी पाई। पुलिस ने कई केस में जेमा के खिलाफ सुबूत इकट्ठे करने के बाद उससे पूछताछ शुरू की तो जेमा ने खुद को लेस्बियन बताया।

जेमा ने पुलिस को बताया कि वह लेस्बियन है और उसे मर्दों में इंटरेस्ट नहीं। इसी के चलते उसके साथ लड़कों द्वारा जबर्दस्ती की गई। प्रॉसिक्युटर मैडलिन मूर ने कोर्ट को बताया कि इन मामलों की जांच करते हुए पुलिस ने कुल 6400 घंटे बर्बाद किए, जिसमें 2.5 लाख पाउंड (करीब ढाई करोड़ रुआ) का खर्च आया। इसके अलावा ट्रायल में भी 1 लाख पाउंड (करीब 82 लाख रु.) खर्च हुए।

कोर्ट में भी जेमा ने कई बार रेप और सेक्शुअल असॉल्ट की बात दोहराई, लेकिन 5 हफ्तों तक चले ट्रायल में कोर्ट ने जेमा को झूठी साजिश रचने का आरोपी पाया। साउथवार्क क्राउन कोर्ट ने इस मामले में जेमा को 10 साल जेल की सजा सुनाई। सजा का एेलान करते हुए कोर्ट ने जेमा को ‘समझदार झूठा’ बताया। जज ने कहा कि जेमा को खुद को विक्टिम के रूप में देखना पसंद है।