तेज स्पीड के चक्कर में संबंध बनाते समय मर्द का प्राइवेट पार्ट टूटा, लड़की बोली- ये आवाज केसी आई जब जब लड़के को पता चला तब

अमेरिका के बॉस्टन में सेक्स करने के दौरान एक 42 साल के मर्द का पेनिस टूट गया और उसका कहना है कि उसने इस टूटने की आवाज भी सुनी थी। डॉक्टरों का कहना है कि पुरुष का लिंग संयोग से अपनी साथी की गुदा और यौन अंगों के बीच टकराया था।

उसका कहना है कि उसने टूटने की आवाज सुनी, उसका इरेक्शन तुरंत खत्म हो गया और उसके लिंग से खून बहने लगा। उसे बहुत तेज दर्द हुआ और उसे अस्पताल के लिए भेजा गया। डॉक्टरों का कहना है कि उसके लिंग के अंदरूनी भाग की बाहरी परत ‘ट्यूनिका अल्बूजीनिया’ फट गई थी। ऑपरेशन के तीन और छह माह के बाद डॉक्टरों ने उसको चेक किया और पाया कि वह अपनी तकलीफ से पूरी तरह उबर चुका है। उसे बॉस्टन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था।

इस मामले की पूरी रिपोर्ट न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित की गई है। आपको बता दें कि मर्दों के लिंग के सबसे अंदरूनी हिस्से कॉर्पस कैवरनोसा की बाहरी आवरण या कवर को ट्यूनिका अल्बूजीनिया कहा जाता है।डॉक्टरों का कहना था कि इस तरह के फ्रेक्चर से इरेक्टाइल डिसफंक्शनिंग (लिंग के सीधे खड़े होने की प्रक्रिया बाधित होती है), लिंग में टेढ़ापन या झुकाव आ जाता है, यौनांगों में नर्व्स क्षतिग्रस्त हो जाती हैं।

इस ऑपरेशन के बाद मरीज एडवर्ड स्टालिंग को कई सप्ताहों तक तकलीफदेह इरेक्शन झेलना पड़ा। अस्पताल में उन्हें नींद लाने वाली गोलियां दी गईं, जिसका दुष्प्रभाव यह हुआ कि उन्हें लम्बे समय के इरेक्शन के कारण अस्पताल में दस दिन तक भर्ती कराना पड़ा।

उन्हें फाइब्रोसिस की समस्या से जूझना पड़ रहा है। फाइबर जैसे टिशूज के कड़े हो जाने के कारण लिंग की मांसपेशियां और धमनियां भी कड़ी हो गईं और इसका परिणाम यह हुआ कि उनके लिंग का इरेक्शन स्थायी हो गया।उनका दावा है कि अस्पताल की लापरवाही के कारण वे नपुंसक हो गए हैं और उन्हें पेशाब करने में समस्या आ रही है। अब वह अस्पताल पर मुकदमा दायर करने वाले हैं।

YOU MAY LIKE