किन्नर को अगर देख लेता है कोई इस हालत में तो आप को धनवान बनने से कोई नहीं कर सकता है

0
36433

इस संसार कि रचना करने वाले ने इस संसार में कई ऐसी चीजों का मिर्माण किया है जिसके पीछे का उद्देश्य क्या है कोई नहीं जानता. कहते हैं कि भगवान ने इंसान कि रचना की है, उसने ही पुरुष को बनाया है और उसी ने स्त्री को. उसने ही संसार के समस्त जीव का निर्माण किया है. कुदरत के बनाए सभी जीवो में से जिसकी बात हम करने जा रहे हैं वो है किन्नर. किन्नर एक ऐसा शब्द है जो अगर किसी के नाम के साथ जुड़ जाए तो उसकी जिंदगी नर्क बन जाती है.

आज हम किन्नरों के बारे में कुछ ऐसी बाते बताने जा रहे हैं जिसके बारे में सुनकर आपको बहुत हैरानी होगी.

Loading...

बता दें कि किन्नरों के ऐसे बहुत से रहस्य हैं जिनके बारे कोई नहीं जानता. कोई नहीं जानता कि है कि ये किन्नर कैसे रहते हैं और वे सभी अपने जीवन में क्या-क्या करते हैं ये सब एक रहस्य ही है. इतिहास के अनुसार सामायण काल में जब भगवान राम वनवास को जाते हैं तो वह सबसे विदाई लेते है और कहते हैं कि सभी नर और नारी आपने घर चले जाएं और कोई भी उनके पीछे ना आये.

कहते हैं कि प्रभु राम उस समय किन्नर का उल्लेख करना भूल गए और इसलिए वहाँ एक किन्नर भगवान श्री राम का इंतजार करता रहा. उसके बाद जब भगवान राम अपना वनवास खत्म करने के बाद आते हैं तो वहां मौजूद किन्नरों से पूंछते हैं कि तुम सभी अपने घर क्यों नहीं गए. इसका जवाब देते हुए किन्नरों ने कहा कि आपने हमसे जाने के लिए कहा ही नहीं. उन्होंने राम से कहा कि आपने कहा था कि सभी नर-नारी अपने-अपने घर चले जाएं लेकिन हम ना तो नर हैं और ना ही नारी.

किन्नरों की इस भक्ति भाव को देखने के बाद भगवान राम ने उन्हें वरदान दिया कि तुम जिसे भी सच्चे मन से आशीर्वाद दोगे वो इंसान अपने जीवन में सफल हो जाएगा उसके पास कभी किसी चीज की कमी नहीं होगी और जिसे तुम श्राप दोगे वो कभी भी खुश नहीं रहेगा. माना जाता है कि इसके अलावा भी इन्हें कई और वरदान मिले थे.

माना जाता हैं कि अगर किसी किन्नर के दफनाते हुए या जलाते हुए देखने से इंसान बहुत धनवान बन सकता है. लेकिन आपको बता दें कि आजतक बहुत कम लोगों ने ही इस कार्य को होते हुए देखा है. जिसने भी इस कार्य को होता देखा है माना जाता है वो अवश्य ही धनवान हुआ है.

आपको बता दें कि ये कार्य मध्येरात्री के समय होता है. लेकिन आपको एक बात बता दें कि ये सभी बाते सुनी-सुनाई हुई हैं इसका कोई पुख्ता सबूत किसी के पास पर्याप्त नहीं है और हम भी इस बात कि कोई पुष्टि नहीं करते हैं. वैसे भी हम किन्नरों के बारे में तरह कि बाते सुनते रहते हैं.

YOU MAY LIKE
Loading...