कोरोना होने के बाद भी नहीं खत्म हो रहे कनिका कपूर के नखरें, PGI ने की ये शिकायत

देश में कोरोना वायरस (Corona Virus) से संक्रमित होने वाली पहली बॉलीवुड सेलिब्रिटी गायिका कनिका कपूर (Kanika Kapoor) के खिलाफ लापरवाही के आरोप में लखनऊ के सरोजनी नगर थाने में शुक्रवार को मुकदमा दर्ज किया गया. आइसोलेशन वार्ड में मौजूद कनिका कपूर पर पीजीआई निदेशक (SGPGI) ने बड़ा आरोप लगाया है. संजय गांधी परास्नातक आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) का कहना है कि कनिका कपूर इलाज में सहयोग नहीं कर रही है.

पीजीआई निदेशक ने योदी सरकार को जानकारी देते हुए कहा कि इलाज के दौरान कनिक पेसेंट नहीं स्टार जैसा व्यवहार कर रही हैं. सभी जरूरी सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं. कनिका अलग कमरे में हैं, लेकिन फिर भी वह सुविधाओं से खुश नहीं हैं. पीजीआई का आरोप है कि कनिका का व्यवहार ठीक नहीं है, बल्किन उन्हें बेस्ट सुविधाएं दी जा रही हैं. अस्पताल में कनिका कपूर के नखरें जारी हैं. उनकी डिमांड और नखरें से पीजीआई का स्टाफ काफी परेशान है.

आपको बता दें कि राज्य सरकार ने लखनऊ जिला प्रशासन को पिछले दिनों आयोजित उन तीनों कार्यक्रमों की जांच करने के आदेश दिए हैं जिनमें कनिका शामिल हुई थी. साथ ही उनमें शामिल हुए लोगों को चिन्हित कर उन्हें पृथक रखने के आदेश दिए गए हैं. लखनऊ के पुलिस आयुक्त सुजीत पांडे ने बताया कि कनिका के खिलाफ खतरनाक बीमारी फैलाने की संभावना वाली हरकत करने के मुख्य आरोप में लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी की तहरीर पर भारतीय दंड विधान की धारा 269, 270 और 188 के तहत सरोजिनी नगर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. कनिका के खिलाफ हजरतगंज और गोमती नगर थानों में दो और मुकदमे दर्ज हो सकते हैं. वह इन इलाकों में आयोजित कार्यक्रमों में शामिल हुई थीं.

यह भी पढ़ेंःप्रियंका गांधी ने लोगों से कोरोना पर गलत जानकारी नहीं फैलाने की अपील की, शेयर की ये Video

कनिका कपूर के खिलाफ मुकदमा दर्ज

गृह विभाग के प्रमुख सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने लखनऊ में बताया कि राज्य सरकार ने कनिका के गत 13, 14 और 15 मार्च को होली के सिलसिले में आयोजित हुए कार्यक्रमों की जांच के आदेश देते हुए लखनऊ जिला प्रशासन से 24 घंटे के अंदर रिपोर्ट मांगी है. उन्होंने बताया कि इन कार्यक्रमों में हिस्सा लेने वाले लोगों की पहचान कर उन्हें पृथक रखने और उनकी स्वास्थ्य संबंधी सभी आवश्यक जांच सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए गए हैं.

SGPGI में एक अलग स्थान पर हैं कनिका

इसके पूर्व, कनिका के पिता राजीव कपूर ने लखनऊ में कहा था किकनिका इस वक्त संजय गांधी परास्नातक आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) में एक अलग स्थान पर हैं और डॉक्टर उनकी देखभाल कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि कनिका मुंबई में एक दिन गुजारने के बाद गत 11 मार्च को लखनऊ आई थीं. उस वक्त वह बिल्कुल ठीक थीं. पिछले दो दिनों के दौरान उन्हें बुखार और खांसी की शिकायत हुई और हमने एहतियात के तौर पर उनका मेडिकल परीक्षण कराया, फिर हमें मालूम हुआ कि वह कोरोना संक्रमित हैं.

13, 14 और 15 मार्च को होली से जुड़ी दो-तीन पार्टियों में शिरकत की थीं कनिका

उन्होंने पूछने पर बताया कि कनिका ने गत 13, 14 और 15 मार्च को होली से जुड़ी दो-तीन पार्टियों में शिरकत की थी. वे छोटे आयोजन थे और कुल मिलाकर कर इनमें 250 से 300 लोगों ने शिरकत की थी. कनिका की शिरकत वाली पार्टियों में अनेक राजनेता और अधिकारी भी शामिल हुए, जिनमें उत्तर प्रदेश के कुछ मंत्री भी हैं. राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और भाजपा सांसद दुष्यंत सिंह भी कनिका की पार्टी में शामिल हुए थे. इस बीच कांग्रेस ने कनिका की पार्टियों में राजनेताओं और अधिकारियों के शामिल होने पर सवाल उठाए हैं.