जानिये- कितने प्रकार के होते हैं जीवन बीमा

परिवार के हर सदस्‍य के लिए जीवन बीमा करवाना सबसे ज्‍यादा जरूरी होता है ताकि दुर्घटनावश, बीमाधारक की मृत्‍यु हो जाएं तो उस पर आश्रित परिवारीजनों को दर-दर भटकना न पड़े। जीवन बीमा, मृत्‍यु, दुर्घटना, विकलांगता, सेवानिवृत्ति आदि का कवरेज देता है। जीवन बीमा के अंर्तगत, धारक की मृत्‍यु हो जाती है तो उसके परिवार को एक निश्चित राशि दी जाती है।


परिवार के मुखिया के लिए बीमा लेना बेहद आवश्‍यक होता है। बीमा कुल मिलाकर 7 प्रमुख प्रकार के होते हैं जो कि निम्‍न प्रकार के हैं:

1. टर्म बीमा
इस प्रकार की बीमा, निश्चित अवधि के लिए होता है। बीमा का उद्देश्‍य, मृत्‍यु के मामले में उच्‍च कवरेज़ प्रदान करना होता है। इसके अलावा, ध्‍यान दें कि वहां कोई देय लाभ नहीं होता है अगर धारक का जीवन, पॉलिसी के टर्म तक बना रहता है।

2. पूरे जीवन का बीमा

अगर कोई पूरे जीवन का बीमा लेना चाहता है तो उसे लाइफ कवरेज लेना होगा। इसमें पूरे जीवन भर समय पर प्रीमियम भरते रहना पड़ता है। इस योजना में, प्रीमियम, प्रीमियम पेमेंट टर्म भर लगातार बनी रहती है। यह, अपने उत्‍तराधिकारियों के लिए सम्‍पत्ति बनाने का एक अच्‍छा तरीका है।

3. एंडोमेंट पॉलिसी
एंडोमेंट प्‍लान, सेविंग्‍स और इंश्‍योरेंस का कॉम्‍बो है। इस प्‍लान में, बीमित राशि को लौटा दिया जाता है, जब पॉलिसी खत्‍म हो जाती है। एक एंडोमेंट प्‍लान, एक लोन प्राप्‍त करने के लिए सिक्‍योरिटी के रूप में इस्‍तेमाल किया जा सकता है।

4. मनी बैक प्‍लान या कैश बैक प्‍लान
इस प्‍लान के तहत, बीमित राशि का कुछ प्रतिशत, बीमाकृत व्‍यक्ति को समय-समय पर वापस कर दिया जाता है जिसे सर्वाइवल लाभ कहा जाता है। जब यह पॉलिसी समाप्‍त हो जाती है तो जमा राशि का भुगतान, मैच्‍योरिटी वैल्‍यू के रूप में कर दिया जाता है। समय-समय पर वापस दी जाने वाले सर्वाइवल राशि को न देकर पॉलिसी की अवधि के दौरान पूरी बीमित राशि के लिए, जीवन भर के जोखिम को कवर किया जा सकता है।

5. बच्‍चों के लिए पॉलिसी
चिल्‍ड्रेन पॉलिसी, जीवन में विभिन्‍न स्‍तरों पर बच्‍चों के लिए खर्च की जाने वाली राशि को प्राप्‍त करने में अभिभावकों की मदद करती है। कुछ बीमा कम्‍पनियां, पॉलिसी की अवधि के दौरान अभिभावक या माता-पिता की मृत्‍यु हो जाने की स्थिति में प्रीमियम में भी छूट दे देती हैं।

6. पेंशन प्‍लान

पेंशन योजना लेने से सेवानिवृत्ति के बाद भी व्‍यक्ति की सतत आय उनकी ही बचत से होती रहती है। उम्रदराज लोगों के लिए यह एक सफल योजना है। पेंशन प्‍लान पर, कर लाभ, धारा80सीसीसी के तहत उपलब्‍ध है और इसकी अधिकतम सीमा, 1.5 लाख रूपए है।

7. यूलिप
यूनिट लिंक्ड बीमा पॉलिसी (यूलिप), निवेश और सुरक्षा का संयोजन है और आपको इसमें पूरी रियायत मिलती है कि आप अपने प्रीमियम का निवेश किस प्रकार करें। इसके अलावा, जब भी आप ये पॉलिसी लें तो पूरी जांच पड़ताल अवश्‍य कर लें।


source : goodreturns.in 
7 Types of Life Insurance One Must know in Hindi

जानिये- कितने प्रकार के होते हैं जीवन बीमा जानिये- कितने प्रकार के होते हैं जीवन बीमा Reviewed by Gajab Dunia on 3:21 PM Rating: 5