जानिए खेल से जुड़े ऐसे ही कुछ अजीब ट्रैडिशन्स के बारे में

रीति- रिवाज़ सिर्फ देश, धर्म और जाति तक ही सीमित नहीं है। बल्कि दुनिया भर में खेल के मैदानों में भी देखा जा सकता है। जानें मैच जीतने पर कैसे लोग अजीब तरह से खुशियां मानते है

1. आइस हॉकी फील्ड पर ऑक्टोपस फेंकना


इस रिवाज़ की शुरुआत 1952 में हुई थी। मैच शुरु होने से पहले ऑक्टोपस को फील्ड पर फेंका जाता है। एनएचएल में डैट्रोइट रेड्विंग्स इसे करती है। ऑक्टोपस के पास आठ भुजाएं होती हैं, और स्टेनली कप जीतने के लिए डैट्रोइट रेड्विंग्स को भी आठ जीत को ज़रूरत होती है।



2. मैच के बाद अपने शहर में आग


वैस्ट वर्जीनिया यूनिवर्सिटी, मॉर्गनटाउन के स्टूडेंट अपने सभी फुटबॉल और बास्केटबॉल मैच के बाद आग लगाते हैं, चाहे उनकी टीम हारे या जीते, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। पिछले 15 सालों में खेलों की वजह से 1799 जगह आग लग चुकी है और काफी सरकारी संपत्ति को नुकसान भी पहुंचा है।


3. गंदी आवाज़ वाला वुवुज़ेला


2010 में साउथ अफ्रीका में जब फीफा वर्ल्ड कप हुआ था तब इस बाजे का बहुत ज़्यादा इस्तेमाल हुआ था। इससे बेहद खराब और तेज़ आवाज़ आती है। जिसकी वजह से खिलाड़ियों को खेलने में दिक्कत होती है।



4. द पोज़नन


इस ट्रेडीशन की शुरुआत पोलिश फैन्स ने करी थी। इसमें फैन्स स्टेडियम में मुड़ जाते हैं और एक दूसरे के कंधे में हाथ डाल देते हैं, फिर ये उछलना कर देते हैं। इसकी शुरुआत 1961 में हुई थी।



5. आय बिलिव दैट वी विल विन’ के नारे


इस ट्रेडीशन को यूटा स्टेट के लोग करते हैं। इसमें सब लोग एक साथ ‘आय बिलिव दैट वी विल विन’ बोलते हैं। इसकी शुरुआत 2003 में नेवल अकादेमी में हुई थी। ये सबसे पहले नेवी के फुटबॉल गेम इस्तेमाल किया गया और फिर इस परमपरा को यूटा स्टेट के लोग आगे ले गए। ये अब ज़्यादातर बास्केटबॉल में सुनाई देता है।



6. नेक्ड जंप इंटू मिरर लेक


ओहायो स्टेट और मिशिगन के बीच होने वाले फुटबॉल मैच से पहले हर नवंबर को लोग मिरर लेक में कूदते हैं। इसकी शुरुआत 1990 से हुई। इसमें एक बड़ी परेड के बाद स्टूडेंट लेक में कूद जाते हैं। झील का पानी काफी ठंडा होता है, लेकिन ज़्यादातर सभी लोग कम से कम कपड़े पहने होते हैं।



7. मुंह पर पाय लगाना


इस ट्रेडीशन को बेसबॉल में काफी सख्ती से फॉलो किया जाता है, और ये काफी अजीब भी है। जब भी कोई खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करता है तो उसके साथी खिलाड़ी उसके मुंह पर पाय लगाते हैं। इसकी शुरुआत लोगों के अनुसार ऐजे बर्नेट ने करी थी, जिन्होने एलेक्स रोड्रिगेज़ के मुह पर जीत की खुशी में पाय लगाई थी। पाईंग तब की जाती है जब कोई भी खिलाड़ी टीवी रिपोर्टर से बात करता है।


Synopsis
The origins of the world's strangest sports traditions. Here, we uncover the origins of the weirdest traditions in sports.
जानिए खेल से जुड़े ऐसे ही कुछ अजीब ट्रैडिशन्स के बारे में जानिए खेल से जुड़े ऐसे ही कुछ अजीब ट्रैडिशन्स के बारे में Reviewed by Gajab Dunia on 11:26 PM Rating: 5