केजरीवाल का ये विज्ञापन इंटरनेट पर बन गया है मज़ाक - ऑड-इवन फॉर्मूला

हाल ही में दिल्ली सरकार ने बढ़ते प्रदूषण के कारण नए साल पर दिल्ली में एक अनोखी पहल शुरू की है, जो भारत के लिए बिलकुल नई है. इसके तहत दिल्ली में जनवरी 1 से 15 तक ऑड-इवन फॉर्मूला लागू रहेगा.



इस फॉर्मूले को मद्देनज़र रखते हुए दिल्ली में ‘ऑड दिन को ऑड नंबर की गाड़ी’ और ‘इवन दिन को इवन नंबर की गाड़ी’ चलाने का प्रावधान है. लेकिन इस नीति के लागू होने के 6 दिन बाद भी कुछ लोग गलत दिन पर गलत नंबर की गाड़ी चला रहे हैं. इस प्रकार के लोगों को समझाने के लिए केजरीवाल का एक और विज्ञापन सामने आया है. ये विज्ञापन ऑडियो में नहीं बल्कि वीडियो में है.




सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश के अनुसार किसी भी स्टेट गवर्नमेंट के विज्ञापन में मुख्यमंत्री का चेहरा नहीं दिखाया जा सकता. हालांकि टीवी पर दिखाए जा रहे इस विज्ञापन में अरविंद केजरीवाल का चेहरा तो नहीं, लेकिन उनकी पहचान बन चुके ‘मफ़लर और टोपी’ का ज़रूर प्रयोग किया गया है, जिससे ये प्रतीत होता है कि विज्ञापन में केजरीवाल को ही दिखाया जा रहा है.

इसी को लेकर इंटरनेट पर लोग केजरीवाल की आलोचना कर रहे हैं. कोई कह रहा है कि केजरीवाल ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना की है, तो कोई इसे बेवकूफ़ी की हद बता रहा है. 



देखिए लोगों द्वारा किए गए ट्वीट और कमेंट्स:




केजरीवाल का ये विज्ञापन इंटरनेट पर बन गया है मज़ाक - ऑड-इवन फॉर्मूला केजरीवाल का ये विज्ञापन इंटरनेट पर बन गया है मज़ाक - ऑड-इवन फॉर्मूला Reviewed by Menariya India on 10:23 PM Rating: 5